आरजेडी की 10 लाख नौकरी पर पीएम मोदी का सीधा अटैक, भागलपुर में कहा- सरकारी नौकरी को व्यापार समझता है विपक्ष

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : भागलपुर के हवाई अड्डा ग्राउंड पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विशाल जनसभा को संबोधित किया. भारत माता की जयकार के साथ पीएम मोदी ने अंगिका भाषा में मौजूद लोगों का अभिवादन किया और कहा- हो भाई बहन सब, हमने दानवीर कर्ण के इ चंपानगरी, ई मंदार पर्वत, अजगैबीनाथ और श्रृंग ऋषि के इस पावन धरती को प्रणाम करिछिवन. साथ ही भागलपुर, बांका, मुंगेर, शेखपुरा, लखीसराय, जमुई और पटना जिलें में जो भी डिजिटली रूप से लाइव प्रसारण देख रहे थे उनसभा की पीएम ने मंच से अभिवादन किया.  

पीएम ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि नीतीश जी की अगुवाई में बीजेपी, जेडीयू, हम और वीआईपी के गठबंधन के पक्ष में बिहार का मत स्पष्ट है. मैं जहां गया वहां देख रहा हूं की नीतीश कुमार जी को दोबारा सीएम बनाने का जनता संकल्प ले चुकी है. बिहार के लोग यह ठान चुके हैं कि एनडीए को फिर जिताना जरूरी है.



बिहार में एनडीए की सरकार बनाना जरूरी इस लिए है कि बिहार प्रगति के जिस पथ पर चल रहा हैं उसकी गति और तेज हो. जरूरी इस लिए है ताकि देश को सशक्त बनाया जा सके. केन्द्र में जो फैसले लिए गए हैं वो बिहार में भी तेजी से लागू हो. वरना एडीए के विरोध में आज जो लोग खड़े हैं वो देशहित के हर फैसले का विरोध कर रहे हैं.

विपक्षी सत्तासुख के लिए बने हैं-पीएम

पीएम ने विरोधियों पर सीधा अटैक करते हुए कहा कि धारा 370 हटाने का फैसला, तीन तलाक का मामला, सेना के आतंकियों पर कार्रवाई, अयोध्या में सुप्रीम कोर्ट मंदिर बनाने का फैसले का ये लोग विराध करते हैं. हमेशा विरोध में रहने वाले ये लोग बिहार के विकास नहीं बर्बादी को पुराने रास्ते पर ही ले जाएंगे.

ये लोग सत्तासुख के लिए बने हैं. आपकी सेवा से, आपकी जरूरतों से कोई सरोकार नहीं है. जब-जब बिहार ने इनलोगों पर विश्वास किया है, इन लोगों ने बिहार के साथ विश्वासघात किया है. बिहार को लूट कर इन लोगों ने अपने परिवार की तिजोरियां भरी है. समाज के दलित, पिछड़ा, अति-पिछड़ा, महादलित वर्ग की चिंता इन लोगों ने कभी नहीं की. अपने परिवार और रिश्तेदारों को फायदा पहुंचाना इनका मकसद है. बिहार वो स्थान है जहां लोकतंत्र के बीज बोए गए थे.

पीएम ने मंच से बिहार को लेकर विरोधियों की सोच को भी उजागर किया. उन्होंने कहा कि बिहार भ्रष्टाचार मुक्त सुशासन का हकदार है. यह सुनिश्चित कौन करेगा वो लोग जो खुद भ्रष्टाचार में आकंठ तक डूबे हुए हैं. या फिर जिन्होंने भ्रष्टाचारियों पर नकेल कसने का काम किया है. बिहार विकास का हकदार है. बिहार रोजगार और उद्यमिता का हकदार है.

आरजेडी की 10 लाख नौकरी पर पीएम का कटाक्ष

आरजेडी के 10 लाख नौकरी देने की घोषणा पर भी पीएम ने हमला बोलते हुए कहा कि सरकारी नौकरी देने को ये लोग व्यापार समझते हैं. सरकारी नौकरी के नाम पर ये लोग अपनी तिजोरी भरने की फिराक में है.

बिहार आज बेहतर कानून व्यवस्था का हकदार है. वो कौन सुनिश्चित करेंगे जिन्होंने गुंडों को खिलाया पिलाया पाला पोशा, या फिर वो लोग जो उन पर डंडा चलाया. बिहार अच्छी शिक्षा का हकदार है. वो कौन सुनिश्चित करेगा वो लोग जिसको शिक्षा का मतलब मालूम नहीं है.

पीएम ने आगे कहा कि एनडीए सरकार आदिवासी बच्चों के शिक्षा, रोजगार पर विशेष ध्यान दे रही है. भागलपुर समेत अन्य शहरों की इन लोगों ने जो हालात कर दी थी वो सभी जानते है. इनके शासनकाल में जंगलराज कायम हो गया था. इन्ही के आतंक के कारण भागलपुर में शिल्क उद्योग के अलावे अन्य रोजगार खत्म होते गए.

1.25 लाख करोड़ के पैकेज का पीएम ने दिया हिसाब

बिहार के इन्फ्रा स्ट्रक्चर के लिए 1.25 लाख करोड़ का पैकेज घोषित किया गया. जिसकी राशि से  साढ़े तीन हजार किलोमीटर का राजमार्ग बने हैं या फिर बन रहे हैं. एनएच का लाभ भागलपुर, बांका समेत अन्य जिलों के लोगों को होगा. 750 किलोमीटर से ज्यादा रेलवे लाइन का चौड़ीकरण, रेलवे फ्लाई ओवर ब्रिज बनाने का काम हो रहा है. बीते वर्षो में गंगा जी पर डेढ़ दर्जन पुल बन चुके हैं या बन रहे हैं. हल्दीया और वाराणसी के बीच वाटर वेब पर जहाज चलने लगे हैं. इसका फायदा भागलपुर वालों को मिलेगा.

एमएसपी को लेकर विपक्ष भ्रम फैला रहा हैपीएम

देश की कृषि में सुधार करने के लिए जो कानून बनाए गए हैं उसका लाख किसानों को मिलेगा. बिहार के गांवों में छोटे शहरों में कोल्ड स्टोरेज का निर्माण होगा. नये कृषि कानून से बिहार के किसानों को ज्यादा मदद मिलेगी. खेत के पास ही स्टोरेज की सुविधा प्राप्त होगी. 1 लाख करोड़ का सरकार ने फंड बनाया है. इस फंड से पैसा लेकर किसान स्टोरेज बना सकते हैं. एमएसपी को लेकर विपक्ष अफवाहें फैला रहे हैं. लागत के 1.5 गुणा राशि देने की एनडीए की सरकार ने सिफारिश की थी. इनके पास आजतक कोई जवाब नहीं है. इनकी सरकार में एमएसपी पर फैसला क्यों नहीं लिया गया. क्यों इन लोगों के समय में किसानों से कम अनाज खरीदा जाता था.

केन्द्र सरकार की नई योजना का लाभ बिहार के गांवों के लोगों को ज्यादा फायदा होगा. स्वामित्व योजना के जरिए हर उस व्यक्ति को जिसके पास गांव में अपना घर हैं अपनी जमीन हैं उसको एक प्रोपर्टी कार्ड दिया जाएगा. प्रोपर्टी कार्ड के माध्यम से बैंकों से कर्ज मिलेगा. बिहार में सरकार बनने के बाद यहां पर भी स्वामित्व योजना लागू किया जाएगा. पीएम ने कहा कि भारत आत्मनिर्भर बनने के लिए संकल्पित है. बिहार भी संकल्पित है. अगर इसमें कोई रोड़ अटका तो विकास में बाधा उत्पन्न हो जाएगा.

लोगों से पीएम ने की अपील

पीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वोट डालने के लिए मतदान केन्द्र पर पहुंचाना है. कोरोना से बचने के लिए नियम को पालन करना है. त्यौहारों के सीजन में जो भी खऱीददारी करेंगे अधिक से अधिक लोकल खरीदेंगे. भागलपुर की सिल्की साड़ी, मंजूसा पेंटिंग समेत दूसरे उत्पादकों को बहुत बड़ा सपोर्ट दीजिए. हाथों से बने दीये जरूर खरीदिए. मिलकर कोशिश करेंगे तो बिहार भी आत्मनिर्भर होगा  और देश आगे बढ़ेगा .