और उस कॉल से कोविंद बन गये राष्‍ट्रपति के उम्‍मीदवार, सामने बैठे थे राकेश दुबे

पटना : स्‍थान-पटना का राजभवन . समय दोपहर का था . कोई विशेष चहल-पहल नहीं थी . सब कुछ सामान्‍य–सा ही था . राज्‍यपाल रामनाथ कोविंद के सामने एडीसी राकेश दुबे बैठे थे . चर्चा के मुद्दे खास नहीं थे . तभी दिल्‍ली से कॉल आया . महामहिम ने कॉल रिसीव किया . कुछ सेकंड में ही उनके चेहरे की आकृतियां बदलने लगी . मुस्‍कुराहट साफ दिख रही थी . सब कुछ सुन चुके थे . 

सामने बैठे एडीसी राकेश दुबे को उन्‍होंने कहा – तुम तो हमारे लिए बहुत लकी निकले राकेश . अब तक समझ नहीं सके थे राकेश दुबे . जिज्ञासा में पूछ लिया . फिर जो मालूम हुआ,वह यह था कि महामहिम देश के राष्‍ट्रपति पद के लिए एनडीए के उम्‍मीदवार हो गये हैं . अब कुछ मिनटों में ही बिहार के राज्‍यपाल की उम्‍मीदवारी की खबर मीडिया में बिग ब्रेकिंग के टैगलाइन के साथ फ्लैश करने लगी . 

राजभवन का माहौल तुरंत बदल गया . राजभवन के सभी अधिकारी-कर्मचारी बधाई देने को तेजी से पहुंचने लगे . रामनाथ कोविंद ने कहा – हमने तो कभी सोचा भी नहीं था . यह तोहफा भगवान का दिया आशीर्वाद है . प्रधान मंत्री नरेन्‍द्र मोदी की महानता है .

एडीसी राकेश दुबे अब अपनी ड्यूटी में लग गये . उन्‍हें पता था कि राजभवन में अब बहुत लोग आयेंगे . महामहिम को तुरंत दिल्‍ली भी जाना होगा . राकेश दो दिनों पहले ही राजभवन में रामनाथ कोविंद के एडीसी बनकर फिर से पहुंचे थे . जब रामनाथ कोविंद राज्‍यपाल बनकर 2015 में बिहार आये थे,तब भी राकेश दुबे ही साथ थे .

पदस्‍थापन के पहले कार्यकाल में ही राकेश दुबे रामनाथ कोविंद के फेवरिट आफिसर बन गये थे . दोनों धर्म-कर्म की बातें करते . पूजा-पाठ में दोनों की अगाध निष्‍ठा है . महामहिम जब भी कानपुर (होम टाऊन) जाते,राकेश दुबे को साथ ले जाते . जब दो दिनों पहले राकेश दुबे फिर से राजभवन बुलाये गये थे,तब पहली मुलाकात में ही कहा- आओ,संभालो अपनी ड्यूटी . तुम रहते हो तो सब ठीक रहता है . ठीक होने का ईश्‍वरीय प्रभाव देखिए – राष्‍ट्रपति भवन की देहरी अब रामनाथ कोविंद का इंतजार करेगी .

यह भी पढ़ें-  रामनाथ कोविंद के प्रस्तावक बनेंगे नंदकिशोर यादव
रामनाथ कोविंद से मिल नीतीश ने दी बधाई, अब राज्यपाल चले दिल्ली
बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद बीजेपी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार
राष्ट्रपति चुनाव : NDA ने की घोषणा तो विपक्ष में बढ़ी हलचल, अशोक चौधरी पहुंचे लालू के घर