लालू की अपील : ऐतिहासिक भूल न करें नीतीश

लाइव सिटीज डेस्क : राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवारों के नाम की घोषणा से पूरे देश में हलचल मच गई है.  खास कर के बिहार में सियासत और भी तेज हो गई है. ऐसा इसलिए क्योंकि बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद के सामने बिहार से ही एक सशक्त चेहरा देश के राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर पेश कर दिया गया है.  विपक्षी दलों की बैठक के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष व 5 बार की सांसद मीरा कुमार का नाम देश के सामने रख दिया. मीरा कुमार भी दलित परिवार से आती हैं.  इस फैसले के बाद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार  पर निशाना साधते हुए उन्हें आगाह भी किया. 

विपक्ष के फैसले के बाद बिहार की राजनीति में मची हलचल भी खूब तेज हो गई है. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद विपक्षी दलों की बैठक के बाद बाहर निकल कर मीडिया के सामने आये. उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जम कर हमला बोला. उन्होंने कहा कि मैं एक बार फिर नीतीश कुमार को कहूँगा कि अपने फैसले पर विचार करें. लालू प्रसाद ने कहा कि नीतीश कुमार ने उन्हें फ़ोन किया था कि मेरी निजी राय है कि मैं रामनाथ कोविंद को समर्थन दूँ. तो लालू प्रसाद ने उन्हें कहा कि यह ऐतिहासिक गलती दोबारा न करें. फिर भी उन्होंने और उनकी पार्टी ने एनडीए उम्मीदवार को समर्थन देने का एलान कर दिया. लालू प्रसाद ने कहा कि हम  गठबंधन में सरकार चलाते रहेंगे लेकिन नीतीश कुमार से बार-बार अपील करते रहेंगे. 

वहीं विपक्ष की बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कोई वार्ता नहीं की जाएगी. नीतीश कुमार से मीरा कुमार को समर्थन देने के लिए उनसे संपर्क नहीं किया जाएगा. विपक्ष के फैसले से नीतीश कुमार अलग-थलग  पड़ते दिखाई दे रहे हैं. वहीं महागठबंधन में सत्ता चला रहे राजद ने साफ़ कर दिया है कि वे मीरा कुमार को वोट करेंगे.

यह भी पढ़ें-  राष्ट्रपति चुनाव : एनडीए के कोविंद के सामने विपक्ष से मीरा कुमार होंगी उम्मीदवार