‘एक नककटा था, जिसकी बहुत बेइज्जती होती थी … ‘चौकीदार ही चोर है’

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार से एक बड़ी खबर निकलकर आ रही है. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला है. राबड़ी देवी ने पीएम मोदी पर तंज कसा है. पूर्व मुख्यमंत्री ने ‘मैं भी चौकीदार’ वाली बात पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने पीएम को कहा कि ‘चौकीदार ही चोर है’.

पूर्व मुख्यमंत्री ने पुराना किस्सा सुनाते हुए ट्वीट किया कि एक नककटा था जिसकी बहुत बेइज्जती होती थी. एक दिन उसने गांव वालों से कहा कि नाक कटाने से भगवान मिलते हैं. और उसके अंधभक्तों में नाक कटाने की होड़ लग गयी. उसने सबकी नाक कटवा कर नककटा बना दिया. उब उसकी बेइज्जती सभी में बराबर बंट गयी है. इसी ट्वीट के जरिये राबड़ी देवी ने पीएम मोदी पर हमला बोला है.

पूर्व सीएम व तेजस्वी यादव ने सोमवार को भी ट्वीट कर प्रधानमंत्री पर जमकर हमला बोला था. लोकसभा चुनाव को लेकर जैसे-जैसे मतदान के दिन नजदीक आते जा रहे हैं, वैसे-वैसे विपक्षी दलों पर हमलों का सिलसिला भी तेजी से बढ़ता जा रहा है. राजद नेता तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री के एक ट्वीट को लेकर हमला बोला है. वहीं, तेजस्वी की मां और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी रामायण के प्रसंग का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री के चुनावी कैंपेन ‘मैं भी चौकीदार’ पर हमला बोला है.

जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर मां राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी ने ट्वीट कर हमला बोला है. तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री के एक ट्वीट पर तंज कसते हुए सवाल उठाया है कि ‘अगर देश के प्रधानमंत्री स्वतंत्र पत्रकारों और प्रेस से संवाद नहीं करेंगे, तो लोकतंत्र कैसे मजबूत होगा?’ उन्होंने कहा है कि ‘अधिकांश निरपेक्ष पत्रकारों की शिकायत है कि आपने विगत पांच वर्षों में एक भी प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं कर स्वतंत्र सवालों का सामना ही नहीं किया है. उनकी शिकायत दूर होनी चाहिए. प्रेस और पत्रकार लोकतंत्र को मजबूत करते हैं.’

इससे पहले, तेजस्वी की मां राबड़ी देवी ने रामायण के प्रसंग का उल्लेख करते हुए ट्वीट किया. उन्होंने प्रधानमंत्री के कैंपेन ‘मैं भी चौकीदार’ पर तंज कसते हुए लिखा है कि ‘रामायण गवाह है. रावण आया था- साधु बनकर, मारीच आया था- हिरण बनकर, कालनेमि आया था- ऋषि बनकर, अब चोर आया है चौकीदार बनकर.’

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*