राबड़ी देवी का खुलासा- झूठ बोल रहे हैं ‘पीके’, मैंने ही उन्हें घर से बाहर निकाला

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व विधान परिषद में विपक्ष के नेता राबड़ी देवी ने प्रशांत किशोर (पीके) पर जमकर हमला बोला है. राबड़ी देवी ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की थी. वे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दूत बनकर आरजेडी अध्यक्ष से 5 बार मिले थे.

राबड़ी देवी ने बताया कि मेरे सामने ही प्रशांत किशोर ने लालू जी से कहा कि आ आप दोनों फिर से एक साथ हो जाइए. लेकिन हमने इसका विरोध किया क्योंकि हमें नीतीश कुमार पर विश्वास नहीं. उन्होंने कहा कि मैंने ही प्रशांत किशोर को अपने घर से बाहर निकाला. राबड़ी देवी ने साफ शब्दों में कहा कि प्रशांत किशोर झूठ बोल रहे हैं कि उन्होंने लालू-नीतीश को एक साथ लाने की कोशिश नहीं की.

आपको बता दें कि, राबड़ी देवी मीडिया से बात करते हुए प्रशांत किशोर पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर की अपनी पार्टी में कोई तवज्जो नहीं मिल रहा है तो दूसरों पर आरोप लगा रहे हैं. राबड़ी देवी ने कहा कि पहले अपने बारे में सोचें उसके बाद किसी के बारे में कोई बयान दें. वो अपना देखें कि उनकी पार्टी में क्या तवज्जों मिल रही हैं.

उन्होंने पीके पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि दूसरों के बारे में बोलना अच्छा लगता है लेकिन अपने और अपनी पार्टी के बारे में सोच समझकर बयान देते हैं. राबड़ी देवी ने प्रशांत किशोर पर कई गंभीर आरोप लगायी हैं. उन्होंने कहा कि किसी के बारे में उलटी बाते करना कोई अच्छी बात नहीं है.

राबड़ी देवी ने अपने दोनों बेटे तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव के बारे में भी बोलीं. उन्होंने कहा कि दोनों मेरे बेटे है. दोनों भाइयों में कोई मतभेद नहीं है. अपने पति लालू प्रसाद के बारे में कहा कि उनकी तबीयत को लेकर चिंता लगी रहती है. उनके न रहने से सब सूना-सूना लगता है. दोनों भाईयों के बारे में भाजपा और जदयू के लोग भड़का रहे हैं. राबड़ी देवी ने दोनों बेटे के मतभेद को बिल्कुल ही नकार दिया है. पार्टी से बगावती तेजप्रताप यादव से मां राबड़ी देवी ने इमोशनल अपील की है कि बहुत हुआ, घर लौट आओ बेटा.