खराब रिजल्ट पर बोले रघुवंश : सरकार पहले कराए पढ़ाई, फिर हो कड़ाई

raghuvansh-prasad-1234
रघुवंश प्रसाद सिंह (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार इंटरमीडिएट के बेहद खराब नतीजे पर जारी हंगामे के बीच सियासी हमले भी लगातार किये जा रहे हैं. जहां छात्र कॉपी के पुनर्मूल्यांकन को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. वहीं राजद के वरिष्ठ नेता रंघुवंश प्रसाद सिंह भी सरकार को ही घेर रहे हैं. 

इंटर के खराब रिजल्ट पर रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि जब तक सही से पढ़ाई  नहीं होगी तो रिजल्ट ऐसा ही आता रहेगा.  उन्होंने गिरती शिक्षा व्यवस्था पर सीधा हमला बोला है. उनका कहना है कि सरकारी स्कूलों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की व्यवस्था ही नहीं है. स्चूलों में पढ़ाई  होती ही नहीं है, तो ऐसे हालात में छात्रों के नतीजे अच्छे कैसे आएंगे.

उन्होंने कहा कि छात्रो को सही से पढ़ाई  करवाई नहीं जाती है. बाद में परीक्षा में इतनी कड़ाई कर दी जाती है कि बच्चे कुछ लिख ही नहीं पाते हैं. तो नतीजे में गिरावट तो आएंगे ही. 

उन्होंने राज्य सरकार से अपील की है कि सरकार पहले स्कूलों में छात्र-छात्राओं को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराये. उसके बाद परीक्षा के समय जितनी कड़ाई करनी हो करे. उसके बाद ही रिजल्ट का ग्राफ सुधरेगा नहीं तो स्थिति ऐसी ही बनी रहेगी.

बता दें कि इस बार इंटरमीडिएट की परीक्षा में कॉमर्स संकाय को छोड़ कर साइंस और आर्ट्स के नतीजे बेहद निराशाजनक रहे. साइंस स्ट्रीम के नतीजे तो सन्न करने वाले हैं. 6.6 लाख छात्रों में से साढ़े 4 लाख छात्र-छात्राएं फेल कर गए. साइंस स्ट्रीम में महज 30 फीसदी बच्चे ही सफल हुए हैं. जिनमे सिर्फ 8 फीसदी बच्चे ही फर्स्ट डिवीज़न से पास हुए हैं. यही हाल कला संकाय का भी रहा जहां 5.34 लाख स्टूडेंट्स में से 3.30 लाख छात्र-छात्राएं फेल हो गए.

यह भी पढ़ें-   नंदकिशोर यादव ने कहा- पहले घपला-घोटाला अब चौपट शिक्षा व्यवस्था से बिहार कलंकित