चर्चा तेज है, बिहार वाले कुंदन कुमार पसंद आ रहे हैं राजनाथ सिंह को

-अभिषेक आनंद-

नई दिल्‍ली : पावर कॉरीडोर में चर्चा बढ़ रही है . होम मिनिस्‍टर राजनाथ सिंह अपने लिए नये प्राइवेट सेक्रेटरी की तलाश पूरी करने वाले हैं . दो आईएएस अधिकारियों का नाम तेज चल रहा है . इनमें बिहार वाले कुंदन कुमार का नाम आगे है. कुंदन 2004 बैच के आईएएस अधिकारी हैं . प्रधान मंत्री नरेन्‍द्र मोदी से पूर्व में सम्‍मानित भी हो चुके हैं .

राजनाथ सिंह अंतिम रुप से कुंदन कुमार के नाम की सहमति प्रदान कर देते हैं तो फिर अनुमति प्रधान मंत्री नरेन्‍द्र मोदी की लेनी होगी . राजनाथ सिंह के साथ पहले भी प्राइवेट सेक्रेटरी के रुप में बिहार के सहरसा के रहने वाले आईएएस नीतेश कुमार झा थे . झा उत्‍तराखंड कैडर के आईएएस अधिकारी हैं . उन्‍हें होम मिनिस्‍टर के सेक्रेटेरिएट से इसलिए देहरादून वापस होना पड़ा,क्‍योंकि उन्‍हें स्‍टेट कैडर में प्रोमोशन मिलना था .

पहले राजीव प्रताप रुडी के साथ थे कुंदन कुमार

अब राजनाथ सिंह के लिए 2004 बैच वाले बिहार कैडर के जिस आईएएस अधिकारी कुंदन कुमार की चर्चा तेज हो रही है, वह दो माह पहले तक भारत सरकार में स्किल डेवलपमेंट के राज्‍य मंत्री रहे राजीव प्रताप रुडी के प्राइवेट सेक्रेटरी थे . रुडी ही कुंदन कुमार को बिहार से नई दिल्‍ली लेकर आये थे .

आईएएस कुंदन कुमार से राजीव प्रताप रुडी की ट्यूनिंग छपरा में बैठी थी . कुंदन छपरा के डीएम थे और रुडी 2014 में लालू प्रसाद की पत्‍नी राबड़ी देवी को हराकर एक बार फिर से सांसद बन गये थे . ऐसे में,रुडी को जब केन्‍द्र में मंत्री बनने का अवसर प्राप्‍त हुआ,तो कुंदन कुमार को वे अपने नई दिल्‍ली के सेक्रेटेरिएट में ले आये थे .

नरेन्‍द्र मोदी ने किया है सम्‍मानित

आईएएस कुंदन कुमार को प्रधान मंत्री नरेन्‍द्र मोदी सम्‍मानित कर चुके हैं . यह सम्‍मान उन्‍हें बिहार के समस्‍तीपुर के डीएम के रुप में किये गये कार्यो के प्रतिफल में मिला था . कुंदन ने तब राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थय बीमा योजना के तहत प्राइवेट अस्‍पतालों की गड़बड़ी पकड़ी थी . यह पर्दाफाश किया था कि सरकार की राशि हड़पने को अस्‍पताल वाले बिना मतलब बहुत अधिक आपरेशन कर रहे हैं या फिर फर्जी रिकार्ड तैयार कर सरकार को बड़ी राशि का चूना लगा रहे हैं .

kundan kumar
कुंदन कुमार को सम्मानित करते पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*