केंद्रीय मंत्री ने बिहार में इस योजना के धीमे विकास पर जताई चिंता, कहा- यह अफसोसजनक

Ram-Kripal-Yadav1
राम कृपाल यादव (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में पीएम आवास योजना के विकास की धीमी गति को लेकर चिंता जताई गई है. यह चिंता किसी और ने नहीं केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव ने जताई है. केंद्रीय राज्य मंत्री रामकृपाल यादव ने मंगलवार को कहा कि बिहार में प्रधानमंत्री आवास योजना के विकास की गति काफी धीमी है और लक्ष्य से काफी पीछे है. उन्होंने कहा कि यह पीएम मोदी की यह महत्वाकांक्षी योजना है, लेकिन बिहार में योजना पर सही ढंग से काम नहीं हो रहा है.

रामकृपाल यादव ने स्पष्ट रूप से कहा कि यह काफी अफसोसजनक है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनने वाले मकान की गति बिहार में काफी धीमी है. देशभर में इस योजना के तहत 2019 तक एक करोड़ मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है. धीमी गति के कारण बिहार के लोगों इसका फायदा नहीं मिल रहा है. बिहार में इस योजना के तहत 16 लाख मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बिहार सरकार के सामने कई परेशानी हो सकती है. शुरुआती दौर में काफी मकान बनाने का काम धीमी गति से चल रहा है. प्रधानमंत्री आवास योजना की धीमी गति काफी अफसोसजनक है. हालाँकि बिहार में अभी उपचुनाव को लेकर चर्चा बहुत तेज है. बिहार के तमाम राजनीतिक दलों ने इसके लिए तैयारियां भी शुरू कर दी हैं. जदयू ने इस उपचुनाव में पहले ही सरेंडर कर दिया है. लेकिन ऐसे समय में केंद्रीय मंत्री द्वारा राज्य सरकार के धीमे विकास गति पर चिंता जाहिर करने से कुछ न कुछ असर चुनाव पर भी पड़ सकता है. अपनी योजनाओं में बिहार का हिस्सा बढ़ाए केंद्र, सड़कों की देखरेख पर खर्च भी बाटें

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची List 2017 – 2018
प्रधान मंत्री आवास योजना लिस्ट (pmay) की लिस्ट यानी सूचि में आप अरुणांचल प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, गोवा, गुजरात, हरयाणा, हिमांचल प्रदेश, जम्मू & कश्मीर, झारखंड, केरल, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, उड़ीसा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, त्रिपुरा, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, अंडमान & निकोबार, दादर & नागर हवेली, दमन & दिउ, लक्ष्यद्वीप, पुडुचेरी, आँध्रप्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना का देख सकेंगे.

About Ranjeet Jha 2235 Articles
I am Ranjeet Jha (पत्रकार)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*