स्व-घोषित भगवान रामपाल को कोर्ट ने माना दोषी, इस दिन होगा सजा का एलान

rampalji-maharaj
rampalji-maharaj

हिंसार। कहते है जैसी करनी वैसी भरनी। हां इसमें थोड़ा समय लग सकता है। लेकिन दोषी को सजा ता मिल के ही रहती है। ताजा मामला हिंसार से है जहां की एक अदालत ने आज गुजुवार को स्वघोषित भगवान बाबा रामपाल को दो हत्याओं के मामले में दोषी करार दिया है। वहीं कोर्ट ने इस मामले में 22 अन्य लोगों को भी हत्या के मामले में दोषी माना है।

गुजरात कथित रेप मामला : आरोपी की मां ने कहा, मेरे बेटे को फांसी दे दो, दूसरों पर हमला मत करो 

जानकारी के अनुसार मामला 2014 का है जब पुलिस हिंसार के सतलोक आश्रम में कोर्ट की अवमानना के मामले में दाषियो को पकड़ने पहुची थी। इसी दौरान पुलिस को पांच महिलाओं और एक बच्चे की डेडबाॅडी मिली थी। इस मामले में कोर्ट ने राामपाल समेत सभी 23 आरोपियों को हत्या, अवैध कारावास और आपराधिक षड्यंत्र को लेकर दोषी ठहराया है। कोर्ट इस मामले में सजा का एलान 16 और 17 अक्टूबर को करेगी।

जानकारी के अनुसार इस मामले पर आज सुनवाई अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश डी डी चियालिया की विशेष अदालत में हुई। इस दौरान केंद्रीय जेल हिसार के अंदर हीं एक डमी कोर्ट को बनाया गया था।

आपको बता दे कि रामपाल और उनके अनुयायियों के उपर नवंबर 2014 में हत्या के लिए और कई अन्य गंभीर आरोपों को लेकर मामला दर्ज किया गया था। ये मामले कोर्ट की अवमानना करने के बाद दर्ज किया गयाथा।

रामपाल पर इस मामले की सुनवाई के बाद किसी भी प्रकार की हिंसा जैसी सिथती से निपटने के लिए सरकार की ओर से राज्य और केंद्रीय बलों के 5375 सैनिकां की तलाती की गई थी। बताते चले कि रामपाल को पकड़ने के लिए पूरे अभियान में राजकोष से करीब 26 करोड़ रुपये खर्च किए गए थे।