मणिशंकर अय्यर पर बोले रामविलास – यह कांग्रेस की बीमार मानसिकता

PASWAN-RAMVILAS
रामविलास पासवान (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : मणिशंकर अय्यर को जैसे ही कांग्रेस से निलंबित किया गया. वैसे ही बयानबाजी भी शुरू हो गई. पीएम मोदी के लिए आपत्तिजनक शब्दों कस इस्तेमाल करने पर कांग्रेस ने उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से भी निलंबित कर दिया. जिसके बाद केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने भी इस मामले में ट्वीट किया है. उनके अलावा  राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद , और झारखंड के मुख्यमंत्री ने भी रघुबर दस ने भी ट्वीट किया है.

रामविलास पासवान ने कहा कि यह बहुत दुःखद है कि राजनीति में ऊंचे पद पर रह चुके अनुभवी लोग भी आज तक जात-पात से ऊपर नहीं उठ पाए हैं.  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री मणिशंकर अय्यर द्वारा देश के प्रधानमंत्री के लिए ‘नीच’ और ‘असभ्य’ शब्दों का प्रयोग कांग्रेस की बीमार मानसिकता को दर्शाता है.



रामविलास पासवान का ट्वीट

लालू प्रसाद ने ट्वीट में कहा कि इस देश में राजनीतिक मर्यादा, भाषा और व्याकरण को सिर्फ़ और सिर्फ़ एक व्यक्ति ने तार-तार एवं तहस-नहस किया है. इस ट्वीट में उन्होंने इशारों में ही बातें कहीं. इसके बाद भी लालू प्रसाद ने कई ट्वीट किये. जिसमें गुजरात चुनाव और अयोध्या मुद्दे पर अपनी बात लिखी है.

मणिशंकर अय्यर (फाइल फोटो)

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास ने कहा कि मणिशंकर अय्यर का बयान न सिर्फ प्रधानमंत्री बल्कि गुजराती अस्मिता का अपमान है.  गुजरात में अपनी हार देखकर कांग्रेस बौखला गई है.  इस अपमान का जवाब गुजरात की परिपक्व जनता वोटों के जरिए जरूर देगी.  कांग्रेस अभी तक ये बात नहीं पचा पाई है कि एक गरीब परिवार का बेटा देश का प्रधानमंत्री बन गया.

बता दें कि गुरुवार को कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने मोदी के बारे में विवादास्पद बयान दिया. उन्होंने कहा कि वे नीच किस्म के हैं. बवाल होने के बाद मणिशंकर अय्यर मीडिया के सामने आए। दलीलें दी। कहा, “हम गुजरात चुनाव से हटकर देश को गर्व करने वाली बात करें। लेकिन हर दिन पीएम कांग्रेस और हमारे नेताओं के लिए गंदी बात करते हैं। मैं फ्रीलांस कांग्रेसी हूं। कांग्रेस का ऑफिशियल स्पोक्सपर्सन नहीं। सोचा कि पीएम को उनके स्तर तक जाकर जवाब दूं.”