पटना का इको पार्क रोड बना रणक्षेत्र, गेस्ट फैकल्टियों ने मांगा हक तो मिली लाठी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पटना का इको पार्क थोड़ी देर के लिए रणक्षेत्र में तब्दील हो गया. पुलिस लाठियां चटकाने लगी तो प्रदर्शनकारी भागने लगे. प्रदर्शनकारियों की भगदड़ के कारण इको पार्क वाली रोड़ पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया. हालांकि थोड़ी ही देर में पुलिस ने वहां से प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया.

दरअसल पटना विश्वविद्यालय समेत पूरे बिहार के विभिन्न विश्वविद्यालयों में काम कर रहे अथिति शिक्षक पटना के इको पार्क के पास विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. सेवा समायोजन और समान काम के बदले समान वेतन की मांग को लेकर प्रदर्शनकारी मुख्यमंत्री आवास की ओर बढ़ने लगे. मौके पर मौजूद पुलिकर्मियों ने जब आगे बढ़ने रोका तो प्रदर्नकारी उग्र हो गए. हालात बेकाबू होता देख पुलिस ने बल का प्रयोग किया. जिससे भगदड़ मच गयी.



शिक्षक अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ज्ञापन देना चाहते थे, लेकिन उन्हें इको पार्क के पास पुलिस ने रोक दिया. इस दौरान पुलिस और शिक्षकों के बीच नोक झोंक हुई. पुलिस ने बल का प्रयोग करते हुए कुछ प्रदर्शकारियों को हिरासत में ले लिया है.

प्रदर्शनकारियों का कहना था कि हम गेस्ट फैकेल्टी के रूप में लंबे समय से काम कर रहे हैं. हमारी नियुक्ति नहीं हो रही है. दूसरी ओर सभी यूनिवर्सिटी में वैकेंसी निकला हुआ है. हमारी नियुक्ति क्यों नहीं की जा रही है? हमारी भी बहाली नियम के तहत हुई है. यूजीसी की गाइड लाइन के तहत हमलोग काम कर रहे हैं. इसके बावजूद भी हमें समान वेतन नहीं मिल रहा है.