भारतीय रेलवे के डाटा सिस्टम पर रेनसमवेयर का अटैक, अलर्ट जारी

लाइव सिटीज डेस्क : कई देशों के बैंकों के एटीएम पर रेनसमवेयर वायरस के अटैक के मद्देनजर जहां भारत में रिज़र्व बैंक ने सुरक्षा दृष्टि से अलर्ट जारी किया. वहीं इस वायरस ने भारत में अगला निशाना भारतीय रेल को बनाया है. पश्चिम मध्य रेलवे में रेनसमवेयर ने अटैक कर दिया है.  

पश्चिम मध्य रेलवे के कोटा मंडल के डाटा सिस्टम पर रेनसमवेयर वायरस ने अटैक किया है. फाइनेंस, इंजीनियरिंग, स्टोर विभाग के कुछ सिस्टमों में वायरस के बाद इन्हें नेटवर्क से अलग कर बंद कर दिया गया है. इसके बाद रेलवे बोर्ड ने भी अलर्ट जारी कर डाटा सिस्टम यूज करने वाले जोन और विभागों को सावधानी बरतने को कहा है.



हालांकि इसका असर टिकट सिस्टम, रिजर्वेशन, कलेक्शन या ऑपरेशन से जुड़े डाटा बेस पर नहीं पड़ा है. दूसरी तरफ, कोटा मंडल में नेटवर्किंग टीम वायरस क्लीन करने में लग गई है. एंटी वायरस इंस्टॉल होने के बाद ही इन सिस्टमों को दोबारा शुरू किया जाएगा.

कोटा माडल के फाइनेंस विभाग पर जैसे ही इस वायरस का अटैक हुआ. इसका असर दिखना शुरु हो गया था. फाइनेंस विभाग के सिस्टम गुरुवार शाम को ही फेल होने लगे थे, लेकिन वायरस की पुष्टि शुक्रवार सुबह ही हो पाई. 

वायरस का अटैक सिर्फ फाइनेंस डाटा सिस्टम पर नहीं बल्कि  कुछ देर में ही इंजीनियरिंग, स्टोर, पर्सनल विभाग के सिस्टम में भी इसका अटैक हुआ. इसके बाद इन सिस्टम को इंटरनेट से अलग कर बंद कर दिया गया. सूत्रों के मुताबिक लगभग 20 से 25 सिस्टम प्रभावित हुए हैं. संभवत: सोमवार को ही ये सिस्टम दोबारा शुरू हो पाएंगे.

वायरस अटैक के बाद जबलपुर और भोपाल मंडल के सभी विभागों को रेलवे ने इंटरनेट का कम से कम उपयोग करने को कहा है. पश्चिम मध्य रेलवे जोन कार्यालय में भी नेटवर्किंग के उपयोग के दौरान सावधानी रखी जा रही है. सूत्रों के मुताबिक नार्थ सेंट्रल रेलवे, सेंट्रल रेलवे आदि दूसरे रेल जोन के भी सिस्टम में वायरस अटैक की बात सामने आई है.  

वहीं इस मामले में रेलवे बोर्ड के पीआरओ वेदप्रकाश ने बताया कि अभी तक ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है. सभी जोन को सावधानी रखने को कहा है. हमारा पैसेंजर डाटा सिस्टम सुरक्षित है.

इधर, कोटा मंडल के ADRM आलोक अग्रवाल ने बताया कि इंजीनियरिंग, फाइनेंस, स्टोर समेत कुछ विभाग के सिस्टम में वायरस की बात सामने आई है. हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो सकती है. हमने सिस्टम को नेटवर्क से अलग कर दिया है. इंटरनेट सुविधा यूज नहीं हो रही है. सोमवार तक इनका वायरस क्लीन कर इन्हें अपडेट करेंगे.

यह भी पढ़ें-  सोमवार को फिर हो सकता है साइबर अटैक, IT एक्सपर्ट्स ने दी है चेतावनी