पटना में हैं रवीश कुमार, कह रहे हैं- यहां बातचीत से चहचाहट ग़ायब है

लाइव सिटीज डेस्क : मशहूर टीवी पत्रकार रवीश कुमार इन दिनों बिहार में हैं. वे कई लोगों से मुलाकात कर रहे हैं. देश में वर्तमान रोजगार के हालातों पर रवीश कुमार इन दिनों नौकरी पर खूब फेसबुक पोस्ट लिखे. उन्होंने यह भी कहा कि नौकरी का मुद्दा जब लिखा तो IT सेल वाले भी गायब हो गये जो बिना पोस्ट पढ़े ही गाली देने लगते थे. अब रवीश कुमार इसी नौकरी के हालात को समझने के लिए बिहार में कई सेक्टर के लोगों से मिल रहे हैं. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि पटना से बातचीत में चहचाहट गायब है.
आगे आप पढ़ें रवीश कुमार ने और क्या-क्या लिखा है…
पटना में कई सेक्टर के लोगों से मिल रहा हूं। बातचीत से चहचाहट ग़ायब है। नौकरी के सवाल ने उदास कर दिया है। टेलिकॉम सेक्टर के लोगों ने बताया कि बिहार में ही पिछले एक साल में दस हज़ार लोगों की नौकरी गई है। गिनती के लोगों को रोज़गार मिला है। पहले बिहार में नौ इंफ्रासट्रक्चर प्रोवाइटर कंपनियाँ थीं। इनका विलय हुआ और पाँच रह गईं हैं। पाँच रह गईं हैं उनमें भी नौकरियाँ जा रही हैं।

आटोमेशन और रिलायंस जिओ के कारण भगदड़ मची है।एक लड़के के बारे में उसके बॉस ने बताया कि खाने तक पैसा नहीं दिया है। बिना पैसा दिए नौकरी से निकाल दिया जा रहा है। नए अवसरों का पता नहीं है। पुराने अवसर सिमट रहे हैं। आप नौजवानों को हिन्दू मुस्लिम टॉपिक पर डिबेट की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। आई टी सेल का भी साथ मिलेगा। इंडियन इकॉनमी 30 साल में सबसे खराब स्तर पर रवीश बोले- यह हिन्दू-मुस्लिम डिबेट का स्वर्ण युग 

बिहार के नौजवानों को तय करना है कि वे क्या चाहते हैं। इस उदासी को छिपाना चाहते हैं या हटाना चाहते हैं। सरकारी नौकरियों का भा बुरा हाल है। टेलिकॉम सेक्टर के लोग बताएँ ताकि पता चले कि नौकरी जाने पर दूसरा रोज़गार मिला या नहीं। उनके क्या हाल हैं ।

About Ranjeet Jha 2666 Articles
I am Ranjeet Jha (पत्रकार)