रिम्स ने लालू प्रसाद को नाश्ते में दे दिया सड़ा अंडा, सेहत से हुआ खिलवाड़, उखड़ गया है RJD

लाइव सिटीज, रांची डेस्कः बीमार राजद चीफ लालू प्रसाद के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ का मामला सामने आया है. दरअसल लालू प्रसाद को रिम्स के कार्डियोलॉजी विंग में नाश्ता में सड़ा हुआ अंडा दे दिया गया. लालू प्रसाद के नाश्ते को लेकर हुई इस घटना के बाद से रिम्स प्रशासन के होश उड़े हुए हैं. आनन फानन में कार्रवाई की बात की जा रही है. इधर इस घटना के बाद से राजद ने अपना स्टैंड कड़ा कर लिया है.

लालू प्रसाद के नाश्ते में सड़ा अंडा

राजद की ओर से रिम्स प्रशासन पर कड़ा प्रहार किया गया है. राजद के ट्विटर पेज पर कहा गया है कि अगर लालू प्रसाद को किसी ने खाने में कुछ मिलाकर दे दिया तो जिम्मेदार कौन होगा. जाहिर है लालू प्रसाद की तबीयत पहले से ही खराब चल रही है. ऐसे में उनके खाने-पीने में ऐसी चीजें उनका सेहत और भी बिगाड़ सकती है.

लालू प्रसाद, रिम्स, नाश्ते में सड़ा अंडा, लालू सड़ा अंडा, rims , lalu prasad, bad eggs, rjd , lalu yadav, fodder scam

आपको बता दें कि लालू प्रसाद को नाश्ते में जो अंडा दिया गया था तो वो बीच से कटा हुआ था. अंडे को अगर ध्यान से देखें तो वो साफ-साफ खराब दिख रहा है. जब उसे कटवाया गया तो सच्चाई सामने आ गई. काटने पर अंडा के किनारे वाला भाग काला दिखायी दिया. इसके बाद अंडा को लौटा दिया गया.

कार्रवाई की बात कह रहा है रिम्स

वहीं, लालू प्रसाद के पास सड़ा अंडा पहुंचने की सूचना पर डायटिशियन मीनाक्षी कुमारी को बुलाया गया. डायटिशियन ने बताया कि किचन के कर्मचारियों को स्पष्ट निर्देश है कि लालू प्रसाद को दिये जानेवाले खाने को भेजने से पहले जांच की जाये. इसके बाद भी लापरवाही हुई है. खाना सप्लाई करनेवाली एजेंसी को शो-कॉज कर जानकारी ली जायेगी.

सूत्रों की मानें तो शनिवार को सामान्य मरीजों को अंडा देना था. प्रत्येक मरीज को दो अंडा दिया जाता है, इसलिए करीब 2600 से ज्यादा अंडे उबाले गये थे. उबालते समय एजेंसी के कर्मचारियों को देखना चाहिए था कि जो अंडा पानी में तैरने लगे वह सड़ा हुआ है. इधर रिम्स के निदेशक आरके श्रीवास्तव ने कहा है कि इस मामले की गंभीरता से जांच की जाएगी. खाना सप्लाई करनेवाली एजेंसी पर भी कार्रवाई की जायेगी.

About Md. Saheb Ali 5155 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*