‘अगर फिट हैं लालू तो क्यों एडमिट कराया रिम्स में, भेजना चाहिए था जेल’

लाइव सिटीज, रांची डेस्कः राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को रांची रिम्स में एडमिट करा दिया गया है. इधर जेल प्रशासन ने बयान जारी किया है कि कोई भी लालू प्रसाद से मुलाकात नहीं कर सकता है. इसी को लेकर रिम्स अस्पताल के बाहर राजद और लालू प्रसाद के समर्थकों का तांता लगा हुआ है. भारी भीड़ इकट्ठा हो गई है रिम्स के बाहर. राजद के लोगों का का कहना है कि लालू प्रसाद को एक बार देखने दिया जाए. उनसे मुलाकात करने दिया जाए.

रिम्स क्यों भेजे गए लालू प्रसाद

उधर रिम्स के बाहर राजद के बड़े नेता भी मौजूद हैं. पार्टी से सांसद जय प्रकाश यादव जो कि लालू प्रसाद के साथ ही दिल्ली से रांची पहुंचे हैं. वो भी रिम्स के बाहर ही मौजूद हैं. जय प्रकाश यादव ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि लालू प्रसाद को मारने की साजिश रची गई है. इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा है कि अगर लालू प्रसाद को एम्स ने फिट करार दे दिया है तो फिर उनको रिम्स में क्यों एडमिट किया गया. उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद स्वस्थ्य हैं तो सीधे जेल भेजना चाहिए.

कड़ी सुरक्षा के बीच लालू को लाया गया रिम्स

लालू प्रसाद यादव मंगलवार को एम्स से लौटकर रांची पहुंचे हैं. उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच रिम्स ले जाया गया. सुरक्षा घेरे में सीधे उन्हें रिम्स के सुपरस्पेशियलिटी ब्लॉक में भर्ती कराया गया. इस दौरान रांची रेलवे स्टेशन से लेकर रिम्स तक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए. उनकी सुरक्षा में 4 मजिस्ट्रेट, 2 डीएसपी और 150 अतिरिक्त जवानों की तैनाती की गई.

रिम्स में मेडिसिन विभाग में लालू की जांच

रिम्स में वापस आने के बाद लालू प्रसाद यादव की जांच मेडिसिन विभाग के डॉ उमेश प्रसाद की देखरेख में होगा. डॉक्टरों की टीम लालू प्रसाद की स्वास्थ्य की जांच करेगी. एम्स के रिपोर्ट के आधार पर यहां चिकित्सा करने की योजना होगी. लीवर से लेकर किडनी तक की जांच की जाएगी. स्वास्थ्य में सुधार के बाद ही लालू यादव को वापस जेल भेजने पर विचार होगा.

About Md. Saheb Ali 4902 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*