राजद बोला, सुशील मोदी – मंगल पांडेय पढ़ा करें पब्लिक कमेंट्स, पीट लेंगे अपना माथा

लाइव सिटीज, पटना : राजद नेता व आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष डा. प्रकाश चंद्रा ने कहा है कि बिहार के लिए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय अमंगलकारी बन चुके हैं . सिद्ध हो चुका है कि वे किसी लायक नहीं हैं . फिर, बिहार को क्या खाक संभालेंगे . ठीक ऐसे ही डिप्टी सीएम सुशील मोदी वायरस मोदी बन गए हैं . ट्विटर पर रोज वायरस छोड़ते रहते हैं, लेकिन यह नहीं देखते कि पब्लिक क्या कह रही है . देख लेंगे, तो पब्लिक का गुस्सा दिखेगा और खुद का माथा पीटना पड़ेगा

प्रकाश चंद्रा ने कहा कि बिहार की परेशान जनता की फिक्र भाजपा-जदयू को नहीं है . दोनों पार्टियां सिर्फ चुनावी बांसुरी बजाने में लगी है . लेकिन, बिहार को कोरोना – बाढ़ की आफत के बीच यह सुर न सिर्फ बेसुरा लगता है, बल्कि ऐसा प्रतीत होता है कि जनता की दुखती रसों में जहर की सूई चुभोई जा रही है .



उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में बिहार की आवाज तो सिर्फ तेजस्वी यादव बने हुए हैं . वे जनता से कनेक्ट होते हैं . धक्का मार बिहार सरकार को जगाने की कोशिश करते हैं . लेकिन, सुशील मोदी कोरोना और बाढ़ से बेहाल बिहार की चर्चा न कर गंदा वायरस छोड़ पब्लिक को दिग्भ्रमित करने की कोशिश करते हैं . लेकिन, बिहार जदयू – भाजपा के झांसे में अब आने वाला नहीं है .

उन्होंने कहा कि जब तेजस्वी यादव सीधे जनता के बीच पहुंच गए, मदद का हाथ बढ़ाया, तो स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय अस्पतालों में कुछ देर दिखावे के लिए गए . वे जिस तरीके का पीपीई किट पहने थे, क्या बताएंगे कि बिहार के किसी कोरोना वारियर्स को उस गुणवत्ता की पीपीई किट दी गई . जवाब राजद देता है – नहीं दी गई है . दी गई होती, तो इतने कोरोना वारियर्स और डॉक्टर्स महामारी की भेंट नहीं चढ़ते .

राजद नेता ने कहा कि ट्विटर पर रोज बिना मतलब का गंदा वायरस छोड़ने वाले सुशील मोदी को ट्वीट के बाद पब्लिक कमेंट्स को भी पढ़ना चाहिए . 99 प्रतिशत कमेंट्स मोदी के खिलाफ गुस्सा जाहिर करती है . और गुस्सा जाहिर करने वाले ये लोग कोई और नहीं बिहार की पब्लिक है . नीतीश कुमार तो बस कुर्सी कुमार हैं, उनका राजनीतिक अंत करीब आ चुका है .