राजभवन जाने से रोके गए रालोसपा कार्यकर्ता, 102 लोगों ने दी अपनी गिरफ्तारी

लाइव सिटीज, पटना : रालोसपा नेता व केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा के साथ भारत बंद के दौरान 10 अप्रैल को हाजीपुर में बदसलूकी हुई थी. आरक्षण के खिलाफ भारत बंद समर्थकों ने उपेन्द्र कुशवाहा को पीएम के प्रोग्राम में जाने से रोका था. इस घटना ने रालोसपा के दूसरे नेताओं और कार्यकर्ताओं को झकझोर दिया. केन्द्रीय मं​त्री के साथ हुए अभद्र व्यवहार को रालोसपा ने एक सोंची समझी साजिश करार दिया है. इस घटना के प्रतिकार में सोमवार को रालोसपा नेता व पूर्व मंत्री दशई चौधरी और प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी की अगुआई में बड़ी संख्या में मौजूद पार्टी के कार्यकर्ता राजभवन मार्च के लिए निकले.

जेपी गोलंबर से मार्च की शुरूआत भी हुई. लेकिन डाकबंगला चौराहा पहुंचने पर पटना पुलिस ने सभी को रोक दिया. मार्च को आगे जाने नहीं दिया. जबकि रालोसपा के नेता और कार्यकर्ता हर हाल में गवर्नर से मिलकर उन्हें एक ज्ञापन सौंपना चाहते थे. लेकिन पहले से पुलिस ने भी अपनी तैयारी कर रखी थी. मार्च को डाक बंगला चौराहा से आगे बढ़ने नहीं दिया जा रहा था. जिस कारण पुलिस से नेताओं व कार्यकर्ताओं की नोक—झोक भी हुई.

इस कारण पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा. इसके बाद नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पटना पुलिस के समक्ष अपनी गिरफ्तारी दे दी. गिरफ्तारी के बाद सभी को गांधी मैदान थाना में रखा गया. थानेदार दीपक कुमार के अनुसार कुल 102 लोेगों को गिरफ्तार किया गया है.
रालोसपा नेता व पूर्व मंत्री दशई चौधरी के अनुसार ज्ञापन के जरिए पार्टी ने गवर्नर से हाजीपुर में हुए घटना की हाई लेवल जांच कराने, केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा को जेड प्लस सिक्योरिटी उपलब्ध कराने और भविष्य में दोबारा ऐसी घटना नहीं, इसकी मांग की है.

पार्टी के नेताओं और कार्यकताओं को एक बात और खल रही है. वो ये है कि उपेन्द्र कुशवाहा के साथ बड़ी घटना हुई. जिसके बारे में एनडीए के सभी घटक दल जानते हैं. बावजूद इसके बीजेपी, जेडीयू और एलजेपी की तरफ से घटना की निंदा तक नहीं की गई. हाजीपुर की घटना को सात दिन हो गए हैं. लेकिन अब तक सिक्योरिटी अरेंजमेंट में कोई बदलाव नहीं किया गया है. राजभवन मार्च में पार्टी के प्रधान महासचिव सत्यानंद प्रसाद दांगी, राम बिहारी सिंह, राजेश यादव, मो. कामरान और मधु मंजरी सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल थे.

देखें वीडियो : एमएलसी के लिए नामांकन का पर्चा भरने के बाद #प्रेमचंद्रमिश्र बोले हैं…

यह भी पढ़ें- उपेंद्र कुशवाहा से बदसलूकी मामले में एक अरेस्ट, भारत बंद के दौरान हुई थी हाथापाई की कोशिश
‘हिन्दू-मुस्लिम शादियों में रसगुल्ला चांप रहे BJP नेता, कम्युनल केक के चक्कर में कांग्रेस’

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*