बालू-गिट्टी के लाइसेंस लेने वालों की बल्ले-बल्ले, विभाग ने k-पोर्टल किया लांच, कार्यालय का नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में अब बालू-गिट्टी के लाइसेंस लेने वालों के लिए नहीं होगी परेशानी. उन्हें कार्यालयों का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा. उन्हें घर बैठे ही लाइसेंस मिल जाएगा. इतना ही नहीं, घर बैठे ही वे बालू-गिट्टी के लाइसेंस के लिए आवेदन भी कर सकते हैं. यह कहना है खान एवं भूतत्व मंत्री जीवेश मिश्रा का. उन्होंने बुधवार को विभागीय पोर्टल को लांच करते हुए यह भी कहा कि 15 दिनों के अंदर आवेदन करने वालों को लाइसेंस मिल जाएगा. इसे लेकर उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं होगी.

मंत्री जीवेश मिश्रा ने कहा कि पोर्टल लांच का यही मकसद है कि लाइसेंस देने में जो प्रॉब्लम होती थी, उसे खत्म करना. एक टाइम बांड के अंदर लोगों को बालू-गिट्टी का लाइसेंस मिल जाए. वे कार्यालय में टेबल-टेबल नहीं भटकें. पहले के सिस्टम में आ रही दिक्कतों को दूर किया गया है. नये सिस्टम से इच्छूक व्यक्ति आसानी से लाइसेंस ले सकते हैं



उन्होंने कहा कि एक क्लिक के अंदर कोई भी व्यक्ति आवश्यक दस्तावेज के साथ अप्लाई कर सकता है. इसके दो हफ्ते के बाद लाइसेंस उनके हाथ में होगा. लाइसेंस भी ऑनलाइन ही निर्गत किया जाएगा. इस काम में पूरी पारदर्शिता होगी. कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन सारी चीजों को देख सकता है. इसके में कही से भी कोई घाल मटोल नहीं कर सकता है.

उन्होंने कहा कि ऑनलाइन सिस्टम से कार्यों में ट्रांसपेरेंसी भी आएगी. खास बात कि रिन्यू होने के लिए भी यही प्रक्रिया की जाएगी. उन्होंने विभागीय अफसरों की प्रशंसा भी की और कहा कि बहुत कम समय में ई-पोर्टल को लांच किया गया है.