गर्मी और लू से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त, 22 जून तक स्कूलों को बंद करने का आदेश

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार समेत पूरे देश में गर्मी का कहर जारी है. लू और भीषण गर्मी के कारण लोगों की मौत का सिलसिला लगातार जारी है. बिहार में झुलसाने वाली गर्मी से लोग परेशान है. मौसम विभाग के अनुसार पछुआ हवाओं के कारण अभी 48 घंटों तक तापमान में गिरावट की संभावनाएं नहीं हैं. बढ़ती हुई गर्मी को देखते हुए शिक्षा विभाग ने सभी सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों को 22 जून तक बंद करने का आदेश जारी किया है. बिहार शिक्षा परियोजन के निदेशक ने सभी DM और DEO को यह निर्देश जारी कर दिया है.

गर्मी को लेकर गया में धारा 144

बिहार के गया में गर्मी के कारण अब तक 31 लोगों के मरने की ख़बर आ रही है. भीषण गर्मी को देखते हुए गया डीएम ने शहर में धारा 144 लगा दिया है. डीएम ने सभी लोगों से सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक घर से न निकलने की अपील की है. साथ ही किसी भी तरह के निर्माण कार्य पर भी 11 बजे से 4 बजे के बीच रोक रहेगी.

वहीं औरंगाबाद में लू और भीषण गर्मी के कारण 34 लोगों के मौत की पुष्टि हो गई है. नवादा में भी 12 लोगों की मौत हो गई है. लू से हो रही मौतों को लेकर बिहार के स्वास्थ्य विभाग ने राहत-बचाव कार्य शुरू कर दिया है. जगह-जगह पानी की व्यवस्था की जा रही है. अस्पतालों में मरीजों के इलाज के लिए व्यवस्था की जा रही है साथ ही लोगों के बीच जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है. अस्पतालों में मरीजों के लिए कूलर की भी व्यवस्था की जा रही है.

ये भी पढ़ेंः सीएम नीतीश ने राष्ट्रपति से की मुलाकात

ये भी पढ़ेंः PMCH के डॉक्टर्स फिर से हड़ताल पर

22 जून तक बंद रहेंगे सभी स्कूल

बता दें कि शिक्षा विभाग ने जारी आदेश में यह भी कहा है कि अगर गर्मी कम होती है और 22 जून के बाद स्कूल खुलते हैं तो भी सिर्फ सुबह के शिफ्ट में ही स्कूल चलेंगे. स्कूल की टाइमिंग सुबह 6.45 से 11 बजे तक की होगी. बिहार सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है. शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने बिहार के सभी डीईओ को इस संबंध में पत्र भेजा है. अपर मुख्य सचिव ने अपने आदेश में कहा है कि ग्रीष्मावकाश की छुट्टी के बाद भी 30 जून तक सभी स्कूलों को मॉर्निंग शिफ्ट में चलाया जाए.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*