बिहार को मिला था 55000 करोड़ का पैकेज, डिटेल में देखें- किस जिले को क्या मिला है

लाइव सिटीज डेस्क : प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी कल 14 अक्टूबर को बिहार दौरा पर थे. वे पीयू शताब्दी शताब्दी समारोह में भाग लेने के साथ-साथ बिहार को कई तोहफा भी देने आये थे. उन्होंने मोकामा में 3769 करोड़ रुपये की सौगात दी. उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग से जुड़े 3031 करोड़ रुपये के चार एवं राजधानी के लिए 738.04 करोड़ रुपये की चार सीवरेज परियोजनाओं का शिलान्यास किया. इस पर बिहार के नवादा सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सोशल मीडिया पर ट्वीट किया है. 

उन्होंने अपने ट्वीट में बिहार में उच्चमार्ग के लिए केंद्र सरकार द्वारा दिए गए पैकेज के डिटेल्स का 4 स्क्रीन शॉट्स शेयर करते हुए प्रधानमंत्री मोदी और केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को धन्यवाद दिया है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के प्रॉमिस के अनुसार ही काम हो रहे हैं. उनके द्वारा साझा किये हुए स्क्रीन शॉट में लिखा है कि 2015 में बिहार के लिए 55 हजार करोड़ रुपये का पैकेज घोषित किया गया था. इस पैकेज में सम्मिलित परियोजनाओं की विस्तृत जानकारी देते हुए 4 स्क्रीन शॉट शेयर किये हैं.

बता दें कि राज्य में सत्ता परिवर्तन और राजग की नई सरकार के गठन के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने दो साल पहले बिहार के विकास के लिए किए गए वादों में से 55 हजार करोड़ की जारी योजनाओं का उल्लेख किया और बाकी को पूरा करने के इरादे जताए.

अब आप भी देखें कहाँ से कहाँ तक के लिए बनने वाली है सड़कें-

यह भी पढ़ें-

कब तक रहेंगे किराये में : कीमतें बढ़ने के पहले खरीदें 9 लाख का फ्लैट, ऑफर में Gold Coin भी

iPhone 8 पटना को सबसे पहले गिफ्ट करेगा चांद बिहारी ज्वैलर्स, सोने के सिक्के तो फ्री हैं ही

धनतेरस में करें रॉयल जूलरी की शॉपिंग, कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स

धनतेरस पर बेस्ट आॅफर दे रहे हैं हीरा-पन्ना ज्वैलर्स, Turkish जूलरी के साथ Gold Coin भी फ्री

स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry

अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स

चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)