पटना के रामकृष्णानगर में बुजुर्ग दंपत्ति की संदेहास्पद मौत से सनसनी, इकलौते बेटे पर पुलिस को शक, जांच में जुटी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क:  पटना के रामकृष्णानगर थाना क्षेत्र के शिवाचौक के पास बुजुर्ग पति-पत्नी की रहस्मयी मौत से इलाके में सनसनी फैल गयी. दोनों के गले पर रस्सी के दाग मिले हैं. जिसको लेकर तरह-तरह की बातें कही जा रही है. पुलिस ने दोनों के शव को बरामद कर लिया है, साथ ही पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पूरे मामले की तफ्तीश करने में जुट गयी है.

बताया जा रहा है कि 70 साल के रिटायर्ड फिजिकल टीचर ब्रज किशोर प्रसाद और 68 साल की उनकी पत्नी कमल लता सिन्हा की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई है. दोनों पति-पत्नी की लाश घर के पहले तल्ले के कमरे में मिली. जिस घर में दोनों की मौत हुई, उस घर में इनके साथ इकलौता बेटा निप्पू, उसकी पत्नी और इन दोनों का एक बेटा रहता था. निप्पू ने गुरुवार की सुबह 10 बजे के करीब भूतनाथ इलाके ने रहने वाले अपने रिश्तेदार नितेश को कॉल किया था. नितेश के मुताबिक उसे और बाकी के रिश्तेदारों को निप्पू ने यह बताया कि कोरोना से उसके माता-पिता की एक साथ मौत हो गई है. मगर, जब मौके पर पहुंचे तो मामला कुछ अलग ही समझ में आ रहा है.

बताया जा रहा है कि मृतक का इकलौता बेटा निप्पू की नजर अपने मां-बाप की संपत्ति पर थी. इसको लेकर अक्सरहा लड़ाई झगड़ा हुआ करता था. मृतक ब्रज किशोर प्रसाद से रिटायरमेंट से एक साल पहले बेटे ने उनके साथ मारपीट की थी. उस दौरान पिता ने अपने बेटे के खिलाफ थाना में एफआईआर दर्ज कराई थी. उसके बाद से दोनों अलग रहने लगे थे. लेकिन, 2019 में निप्पू की बेटी की शादी थी. पोती की शादी की वजह से दोनों बाप-बेटे एक हो गए थे. तब से शिवाजी चौक के घर में एक साथ रह रहे थे.

रामकृष्णा नगर थाना की पुलिस को भी बेटे पर शक है. उससे और उसकी पत्नी से पूछताछ की जा रही है. सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार के अनुसार दोनों कोरोना से पीड़ित थे या उससे जुड़ी उनकी कोई दवा चल रही थी, इस बात के कोई सबूत जांच के दरम्यान नहीं मिले हैं. पूरी स्थिति पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगी.