मधुबनीः 16 को नामांकन करने जा रहे शकील अहमद, बोले – नहीं मानी पार्टी तो लड़ूंगा निर्दलीय

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः बिहार की मधुबनी लोकसभा सीट पर महागठबंधन में रार बहुत बढ़ गई है. कांग्रेस के सीनियर लीडर शकील अहमद ने कह दिया है कि अगर आला कमान नहीं मानेगा तो निर्दलीय लड़ूंगा. उन्होंने कहा कि मैने पार्टी का समर्थन मांगा है. मैं 16 अप्रैल को नामांकन करने जा रहा हूं. मुझे उम्मीद है कि 18 अप्रैल तक पार्टी आला कमान से कोई जवाब आ जाएगा. आपको बता दें कि बिहार की मधुबनी लोकसभा सीट से वीआईपी के बद्री पूर्वे चुनाव लड़ रहे हैं. उनको महागठबंधन से टिकट दिया गया है. उम्मीदवार बनाया गया है.

शकील अहमद ने मधुबनी स्थित अपने आवास पर प्रेस वार्ता आयोजीत कर कहा कि उन्होंने पार्टी आला कमान से टिकट अथवा समर्थन देने का आग्रह किया है. उन्हें उम्मीद है कि 18 अप्रैल को पार्टी की ओर से उन्हें साकारात्मक जवाब मिलेगा. उन्होंने सुपौल लोकसभा क्षेत्र का हवाला देते हुए कहा कि वहां से महागठबंधन की उम्मीदवार रंजीत रंजन चुनाव लड़ रही है. फिर भी वहां राजद समर्थित एक अन्य उम्मीदवार भी चुनाव लड़ रहा है.

उन्होंने कहा कि मधुबनी में भी कांग्रेस पार्टी को सुपौल जैसा करना चाहिए. शकील अहमद यहीं नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा कि मधुबनी से महागठबंधन के उम्मीदवार हैं वो भाजपा के उम्मीदवार को नहीं रोक पाएंगे ऐसे में मधुबनी से भाजपा को जीतने से रोकने के लिए उनका चुनाव लड़ना जरूरी है. इसके लिए कोंग्रेस के सभी कार्यकर्ता उनके साथ हैं. शकील अहमद के इस प्रेस वार्ता में कोंग्रेस विधायक भावना झा के अलावा सैकड़ो कोंग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे.

आपको बता दें कि मधुबनी लोकसभा सीट पर महागठबंधन के मुकाबले एनडीए की लड़ाई है. दरअसल, मधुबनी की सीट वीआईपी के खाते में गई है. वहीं से बद्री पूर्वे ताल ठोक रहे हैं. उनके खिलाफ एनडीए से बीजेपी के टिकट पर अशोक कुमार यादव मैदान में है. लेकिन शकील अहमद की बगावत हालात बिगाड़ सकती है.

About Md. Saheb Ali 4576 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*