शरद यादव हो सकते हैं विपक्ष से उपराष्ट्रपति उम्मीदवार

लाइव सिटीज डेस्क :  बिहार में सियासी हलचल बहुत तेज हो चुकी है.  महागठबंधन की दो बड़ी पार्टियों के बीच खूब उथल-पुथल मची है. सोमवार को राजद की बैठक भी हुई और यह साफ कर दिया गया कि डिप्टी सीएम तेजस्वी इस्तीफा नहीं देंगे. तो वहीं आज मंगलवार को सीएम नीतीश की अध्यक्षता में जदयू भी बैठक करेगा. लेकिन दूसरी ओर विपक्षी दलों की बैठक भी आज ही होनी है. जिसमें सीएम नीतीश कुमार एक बार फिर गैरहाजिर रहेंगे. लेकिन सीएम नीतीश को मनाने के लिए विपक्ष बड़ा फैसला ले सकता है. 

दरअसल, विपक्षी दलों की बैठक में आज उपराष्ट्रपति उम्मीदवार के नाम पर फैसला लिया जाना है. लेकिन सीएम नीतीश द्वारा लगातार विपक्षी एकता को झटका लगता देख विपक्ष भी नीतीश को अपनी ओर खींचने के लिए बड़ा मोहरा चल सकता है. सोनिया गांधी की अगुवाई में होने वाली इस बैठक में जदयू के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सांसद शरद यादव का नाम उपराष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर घोषित किया जा सकता है. माना जा रहा है कि विपक्ष द्वारा लिए गए इस फैसले से सीएम नीतीश कुमार का रुख विपक्ष को लेकर नरम पड़ सकता है. और नीतीश कुमार को साध कर उपराष्ट्रपति चुनाव में उनसे समर्थन की आस लगाई जा सकती है. 

बता दें कि सीएम नीतीश ने राष्ट्रपति चुनाव में अपना अलग स्टैंड लेते हुए भाजपा उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देकर विपक्षी एकता को तगड़ा झटका दिया था. जिसके बाद बिहार की राजनीति में तूफ़ान खड़ा हो गया था. तो विपक्ष ने भी नीतीश कुमार से संपर्क नहीं करने की घोषणा कर दी थी. लेकिन राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने नीतीश कुमार पर हमलावर होते हुए उन्हें ऐतिहासिक भूल न करने की चेतावनी भी दी थी. दोनों पार्टियों के बीच खूब बहस हुई थी. ऐसा लगा था की गठबंधन कभी भी टूट सकता है. लेकिन दोनों ओर से सरकार चलाये जाने की बात होती रही.

इधर, शरद यादव को उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित कर जदयू को एक बार फिर विपक्ष में शामिल करने कि कवायद हो सकती है. शरद यादव वरिष्ठ नेता हैं और नीतीश कुमार के काफी करीब है. तो संभव है कि शरद यादव की पहल से नीतीश कुमार अपने निर्णय को बदल कर एक बार फिर विपक्ष का साथ देने को तैयार हो जाएं.

यह भी पढ़ें-  उपराष्ट्रपति चुनाव में नीतीश ले सकते हैं अलग स्टैंड, विपक्ष की बैठक से फिर किया किनारा !

सीएम नीतीश की ना के बाद अब लालू भी विपक्षी दलों की बैठक में नहीं होंगे शामिल !