लालू प्रसाद से मिलने बिरसा मुंडा जेल पहुंचे शरद यादव, बिहार में नये समीकरण के संकेत

लाइव सिटीज डेस्क : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद जेल में भले ही बंद हों. लेकिन बाहर सियासत गरम है. बिहार में नए राजनीतिक समीकरण के संकेत प्रबल रूप से दिखाई देने लगे हैं. हाल ही में बिरसा मुंडा जेल में बंद लालू प्रसाद से मिलने गैर राजद दल से भी कई बड़े नेता पहुंचे हैं. इसी क्रम में जदयू से अलग हुए पूर्व सांसद शरद यादव भी आज सोमवार को लालू प्रसाद से मिलने जेल में पहुंचे हैं.

महागठबंधन टूटने के बाद से नीतीश कुमार से खफा हो कर अलग हुए शरद यादव महीनों से अलग राह पकड़े हुए हैं. बिहार में जनता के मूड को समझने के लिए लगातार दौरा भी कर रहे हैं. इधर, राजद भी अपनी पार्टी को मजबूत करने में लगा है. आज सोमवार को लालू प्रसाद से मिलने शरद यादव जेल में पहुंचे उनके साथ झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी भी हैं. इधर, चर्चाएं जोरों पर हैं कि बिहार की सियासत में बड़ा उलटफेर हो सकता है. शरद यादव वैसे भी जदयू से अब अलग हो चुके हैं. ऐसे में उन्हें राजद से कई दफे ऑफर भी मिलता रहा है. वे राजद के बड़े आयोजन में मंच साझा करते भी दिखे हैं.  राजद ने अब पप्पू यादव को बताया ‘अपना’, कहा -वे हमसे अलग नहीं हैं

इधर, राजद एक नए महागठबंधन की तैयारी में जुटा है. राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह और शिवानंद तिवारी लगातार इस बात के संकेत दे रहे हैं कि जदयू और NDA के कई बड़े नेता राजद में शामिल होने वाले हैं. बता दें कि जदयू से नाराज चल रहे पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी, हम पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वृषिण पटेल समेत कई अन्य बड़े नेता जेल में जाकर लालू प्रसाद से मुलाकात कर चुके हैं. वहीं NDA में रालसोपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा की शिक्षा सुधार रैली में राजद के कई बड़े नेता भी शामिल हुए थे. इससे भी सियासत में नए समीकरण के संकेत मिल रहे हैं .

वहीं 2 फ़रवरी को ही राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी सहरसा जेल में बंद बाहुबली नेता आनंद मोहन से मिल आये हैं. इस मुलाक़ात के भी राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं. माना जा रहा है कि राजद अब इस बहाने बिहार के सवर्ण ‘ठाकुर’ वोटबैंक को साधने की कोशिश में लग गया है. अब राजद का मन अपने एक और पुराने साथी मधेपुरा सांसद-सह-जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक पप्पू यादव की ओर डोल रहा है. पार्टी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने पप्पू यादव को ‘अपना’ बताया. पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह वैसे भी अपने बयानों के लिए अक्सर चर्चा में रहते हैं. रघुवंश प्रसाद सिंह ने मधेपुरा सांसद पप्पू यादव को लेकर कहा है कि वे भी हमारे ‘अपने’ ही हैं. हमारी ही पार्टी के हैं. हमसे अलग नहीं हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा और नीतीश कुमार को हराने के लिए सबको साथ आना ही होगा.