विधानसभा में तेजस्वी की बातों पर क्यों भड़के नीतीश कुमार, शिवानंद तिवारी ने बताया कारण

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा के सत्र का अंतिम दिन हंगामे भरा रहा. तेजस्वी यादव और नीतीश कुमार की जुबानी जंग ने बिहार की राजनीति एक बार फिर गरमा दी है. तेजस्वी यादव ने 56 मिनट तक भाषण दिया. और उस भाषण में नीतीश कुमार पर लगातार हमलावर नज़र आए. इस भाषण के दौरान कई बार नीतीश कुमार ठहाका लगाते भी नज़र आए.

तेजस्वी ने कहा कि कोरोना पर सरकार ने कमेटी बनाने की बात कही, लेकिन कमिटी नहीं बनी. केवल दिखाने के लिए बात की जाती है. सदन में झूठ बोला जाए, तो इससे गलत बात क्या होगी. बदलाव के जनादेश के लिए हम लोगों को धन्यवाद देते हैं.



तेजस्वी के उन्हीं बातों को लेकर अब राजद नेता शिवानंद तिवारी ने जवाब दिया है. तिवारी ने कहा है कि नीतीश कुमार का कल जो रूप था वह आश्चर्य चकित करने वाला था. कल विधानसभा में दूसरे नीतीश कुमार दिखाई दिए. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार भीतर भीतर घूट रहे हैं.

उन्होंने चिराग पासवान से जुड़े मामलों के बारे में कहा कि अगर पीएम मोदी ने यह कह दिया होता कि जो लोग चिराग का साथ दे रहे हैं उनका भाजपा से कोई नाता नहीं होगा तो समझ में आता कि पीएम नीतीश कुमार के साथ है. लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं कहा.

वहीं उन्होंने लालू यादव की बेटियों और तेजस्वी यादव द्वारा दिए जाने वाले 10 लाख रोजगार को लेकर भी नीतीश कुमार पर हमला बोला.