चौंकाने वाला बयान : अक्सर तांत्रिक को घर पर बुलाती थी रिया चक्रवर्ती

ऑटो में सफर कर रही मुंबई पहुंची पटना पुलिस की टीम

लाइव सिटीज, पटना/अमित जायसवाल : एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के मामले में एक ऐसा बयान सामने आया है, जिसने सबको चौंका दिया है. सुशांत सिंह राजपूत के घर पर अक्सर तांत्रिक पूजा होती थी. इस पूजा को कराने के लिए अक्सर एक तांत्रिक आता था. इस तांत्रिक को बुलाने वाली कोई और नहीं, बल्कि रिया चक्रवर्ती थी. बेहद चौंकाने वाली यह बात सामने तब आई, जब पटना पुलिस की टीम के सामने मुंबई में रहने वाली सुशांत की बहन मीतू सिंह ने अपना बयान दिया. ये जानकर आप भी हैरान हो गए होंगे. लेकिन सूत्रों के हवाले से जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक रिया चक्रवर्ती सुशांत के ऊपर काला जादू करवाती थी.

बहन ने जो बयान पुलिस को दिया उसके अनुसार घर पर तांत्रिक को बुलाने की बात सुशांत के ही एक स्टाफ ने कॉल कर उन्हें दी थी. तांत्रिक पूजा के वक्त सुशांत के घर में मौजूद सभी स्टाफ को बाहर भेज दिया जाता था. सुशांत को अक्सर भूत-प्रेत की कहानियां सुनाई जाती थी. सुशांत ने अपने गले में जो ताबीज पहन रखा था, वो भी रिया ने ही उसे पहनाए थे. भूत-प्रेत की बात कह कर ही रिया ने सुशांत के पुराने घर को बदलवा दिया था.



अंकिता लोखंडे दो बार आई थी पटना

सुशांत की मौत के बाद उनकी एक्स गर्ल फ्रेंड अंकिता लोखंडे दो बार पटना आई थी. अमेरिका में रहने वाली सुशांत की बहन के साथ अंकिता के रिश्ते काफी अच्छे हैं. इस कारण पटना आकर अंकिता ने काफी सारी बातें शेयर की थी. सुशांत ने मणिकार्णिका की शूटिंग के दौरान अंकिता के साथ चैट किया था. उस चैट की स्क्रीन शॉट को अंकिता ने बहन के साथ शेयर किया है. मीतू ने ही इस बात की जानकारी पटना पुलिस की टीम को दी है. इस मामले में अंकिता लोखंडे का बयान लेने के लिए पटना पुलिस की टीम गुरुवार की देर शाम मुंबई में उसके घर पहुंची है.

हाथ लगे कुछ डिटेल्स

गुरुवार को मुंबई में मौजूद पटना पुलिस की टीम बांद्रा के तीन बैंकों में गई थी. इसमें कोटक महिंद्रा, आईसीआईसीआई और एचडीएफसी बैंक के ब्रांच शामिल हैं. बैंक के इन तीनों ब्रांच में सुशांत सिंह राजपूत के अकाउंट्स थे. सूत्रों से जो जानकारी मिली है, उसके मुताबकि अबतक कुछ डिटेल्स पटना पुलिस की टीम को मिल गई है. हालांकि टीम की तरफ से कुछ और महत्वपूर्ण डिटेल्स की डिमांड की गई है. जो शुक्रवार को मिलने की संभावना है.

नहीं मिली गाड़ी, करनी पड़ी ऑटो की सवारी

इस पूरे प्रकरण में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि मुंबई पुलिस का व्यवहार पटना से गई पुलिस टीम के प्रति सही नहीं है. किसी भी स्तर पर मुंबई पुलिस मदद नहीं कर रही है. केस की बात तो छोड़ दी दीजिए. पटना पुलिस की टीम को किसी प्रकार की सिक्युरिटी नहीं मिली है. मुंबई में मूवमेंट ले लिए एक गाड़ी तक उपलब्ध नहीं कराया गया है. पटना पुलिस की टीम हर जगह ऑटो से जा कर अपना काम कर रही है. मुंबई पुलिस का बेहद ही शर्मनाक व्यवहार सामने आया है.