दुमका लोकसभा सीट रिकॉर्ड मत से जीतेंगे शिबू सोरेन : सुप्रिया भट्टाचार्य

लाइव सिटीज, रांची : लोकसभा चुनाव का आखिरी चरण का चुनाव होना बाकी है. अंतिम चरण का मतदान 19 मई को है. नेता लगातार चुनावी रैली कर रही हैं. इस बीच दुमका लोकसभा क्षेत्र के प्रत्याशी शिबू सोरेन के साथ जेएमएम का पूरा कुनबा दुमका में कैंप कर रहे हैं. अंतिम चरण का चुनाव 19 मई को होगा. शिबू सोरेन के प्रतिष्ठा इस बार दांव पर लगी है आखिर वह चुनाव जीत पाएंगे या नहीं.

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास के साथ कैबिनेट के तमाम मंत्री गण के साथ डेरा जमाए हुए हैं. अब देखने की बात यह होगी कि दुमका की जनता किस को अपना आशीर्वाद देती है. शिबू सोरेन या बीजेपी के प्रत्याशी सुनील सोरेन को.

जेएमएम के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने बताया कि गुरुजी अपना पूरा ध्यान चुनाव प्रचार में लगाए हुए है. इतनी तपिश गर्मी के बावजूद भी जहां जिस क्षेत्र में गुरुजी की मांग होती है. वहां जरूर पहुंचते हैं. सुनिए शिबू सोरेन की दिनचर्या के बारे में. किस प्रकार चुनाव प्रचार करते हैं और उनके खान-पान का ध्यान कौन रखता है. इन सब बातों पर खुलकर बोले झामुमो के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने.

आपको बता दें कि झारखंड में मलुटी के मंदिर और मयूराक्षी नदी पर बना मसानजोर बांध दुमका की पहचान है. वहीं बाबा बासुकी का भी उपराजधानी को आशीर्वाद प्राप्त है. दुमका लोकसभा सीट पर एक बार फिर गुरु-चेला आमने-सामने हैं. लोग कहते हैं कि मयूराक्षी में कितना पानी बहा यह कहना संभव है, लेकिन गुरु चेले के बीच जंग का अंदाजा लगाना थोड़ा मुश्किल है. यानी टक्कर बराबरी की है. ऊंट किस करवट बैठेगा इसका फैसला 19 मई को ही होगा. गुरु यानी आठ बार दुमका के सांसद रह चुके झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन और चेले भाजपा प्रत्याशी सुनील सोरेन हैं. सुनील ने झामुमो से ही राजनीतिक यात्रा शुरू की और अब वे भाजपा में हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*