भाईयों की कलाई पर राखी बांधेंगी बहनें, जानें शुभ मुहूर्त

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: आज पूरा देश रक्षाबंधन का त्योहार मना रहा है. रक्षाबन्धन हिंदुओं का प्रमुख त्योहार है, जो श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. यह भाई-बहन को स्नेह की डोर से बांधने वाला त्योहार है. यह त्योहार भाई-बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक है. इस दिन बहनें भाई की कलाई पर राखी बांधती हैं और लंबी आयु की कामना करती हैं वहीं भाई अपनी बहनों को रक्षा का वचन देते हैं. इसके साथ ही बहनों को उपहार भी दिए जाते हैं.

रक्षाबंधन के दिन शुभ मुहूर्त में ही राखी बांधी जानी चाहिए. इस पर्व पर पंचांग के अनुसार कई शुभ योग बन रहे हैं. राखी का शुभ मुहूर्त सुबह 9 बजे से 10:22 बजे तक और दोपहर 1:40 बजे से सायं 6:37 बजे तक है. मान्यता है कि शुभ मुहूर्त में राखी बांधने से पुण्य प्राप्त होता है और शुभ फलदायी होता है.



राखी भाई-बहन, गुरु-शिष्य, प्रकृति और मनुष्य के मध्य तारतम्य स्थापित कर सक्षम और समर्थ से अबला और कमजोर की सुरक्षा के संकल्प का त्योहार है. धार्मिक मान्यता है कि मां लक्ष्मी ने भी पाताल लोक जाकर राजा बलि को राखी बांधकर उन्हें भाई बनाया था। राणी कर्णवती ने राजा हुमायूं को रक्षा के लिये राखी भेजी थी.