सोनिया-राहुल का रंजीत पर बड़ा भरोसा, वाराणसी में मोदी गवर्नमेंट की ‘पोल खोल’ का जिम्मा

नई दिल्ली : कांग्रेस आलाकमान ने सुपौल की सांसद रंजीत रंजन को बड़ी जिम्मेदारी दी है . कांग्रेस 26 मई को नरेंद्र मोदी सरकार के 3 साल पूरे होने पर देश भर में देश का सच बताने को निकली है . कांग्रेस 3 साल के केंद्र के कार्यकाल को जुमलों और 30 तिकड़म की सरकार बता रही है .

कांग्रेस ने अपने महाअभियान में रंजीत रंजन को 4 महत्वपूर्ण प्रदेशों का प्रभार सौंपा है . मीडिया वार्ता के माध्यम से मोदी सरकार की विफलताओं को बताना है .  सबसे बड़ी बात यह कि कांग्रेस ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का प्रभार भी रंजीत रंजन को सौंप दिया है . रंजीत रंजन वाराणसी में 15 जून को होंगी . साथ में स्टेट कमेटी के पदाधिकारी होंगे . रंजीत वाराणसी को बताएंगी कि जश्न मना रही भाजपा ने देश का क्या हाल बनाया है . वाराणसी के बाबत वे मुकम्मल तैयारी में जुटी हैं .

रंजीत रंजन ने चार राज्यों के मिले प्रभार के तहत पहली प्रेस वार्ता 22 मई को जम्मू में की है . इसमें उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर जनता को गुमराह कर जश्‍न मनाने का आरोप लगाया . उन्होंने कहा कि 26 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी तीन साल का जश्‍न मनाने की तैयारी कर रहे हैं, पर कांग्रेस व देश जानना चाहता है कि यह कैसा जश्‍न होगा?  आखिर देश, किस बात की खुशी मनाए? उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्र में नरेन्‍द्र मोदी की तीन साल की सरकार जुमलों और 30 तिकड़मों की सरकार रही है . सभी फ्रंटों पर देश को ठगा गया है . 

सांसद ने पूछा कि कांग्रेस व देश साथ-साथ जानना चाहता है कि क्‍या इन तीन सालों में देश भर में बलात्‍कार की घटनाएं बंद हो गईं? युवाओं को रोजगार मिलने लगा? भारत भर में शौचालय बन गए?किसानों को वायदे के मुताबिक 50प्रतिशत का मुनाफा मिल गया? महंगाई कम हो गई? भारत स्‍वच्‍छ हो गया?डिमोनेटाइजेशन से देश भ्रष्‍टाचार मुक्‍त हो गया?  उन्‍होंने कहा कि  देश का सच पूरे देश को कांग्रेस बताएगी . इसके लिए कांग्रेस ने ब्‍लूप्रिंट तैयार किया है, जिसे लेकर देश भर में कांग्रेसजन जायेंगे .

गौरतलब है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने देशभर में 60 प्रेस कांफ्रेंस के माध्‍यम से केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के तीन साल की विफलताओं को लोगों तक पहुंचाने का निर्णय लिया है . इसके लिए पार्टी की ओर से सांसद रंजीत रंजन को चार राज्‍यों जम्‍मू, झारखंड, पंजाब और वाराणसी में प्रेस कांफ्रेंस करने का दायित्‍व दिया गया है . कश्मीर के हालात की चर्चा करते हुए जम्मू में रंजीत रंजन ने कहा कि घाटी में शांति मोदी सरकार के बस की बात नहीं है . कश्‍मीर अब तक के सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है . 2014 तक कश्‍मीर के हालात बेहतर रहे . 

अब श्रीमती रंजन  31 मई को रांची (झारखंड), 9 जून को अमृतसर (पंजाब) व 15 जून को वाराणसी (उत्‍तर प्रदेश) में प्रेस कांफ्रेंस करेंगी, जहां उनके साथ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रेसीडेंट,विधायक दल के नेता व पार्टी के सीनियर लीडर्स होंगे.

यह भी पढ़ें-  नेशनल हेराल्ड मामला : सोनिया-राहुल की कंपनी की जांच करेगा IT विभाग