युवा रोजगार दिवस के रूप में विवेकानंद जयंती मनाएगा छात्र जदयू, प्रभारी डॉ. रणबीर नंदन ने की घोषणा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : छात्र जनता दल यूनाइटेड ने विवेकानंद जयंती को युवा रोजगार दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है. 12 जनवरी 2021 को आयोजित होने वाले स्वामी विवेकानंद जयंती की तैयारी संगठन ने शुरू कर दी है. छात्र जदयू ने सभी जिला मुख्यालय व सभी विश्वविद्यालय मुख्यालय पर युवा रोजगार दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है. छात्र जदयू के प्रभारी पूर्व विधान पार्षद डॉ. रणबीर नंदन व प्रदेश अध्यक्ष श्याम पटेल ने बताया कि स्वामी विवेकानंद जी के विचारों को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कौशल निखार योजना के तहत सरकारी व गैर सरकारी क्षेत्र में 20 लाख से अधिक रोजगार के अवसर सृजित करने का फैसला किया है. यह एक ऐतिहासिक फैसला है और बिहार के युवाओं के लिए खुशखबरी है. डॉ. नंदन ने सरकार की योजना की सराहना करते हुए कहा कि इसके तहत युवाओं को नया उद्यम लगाने के लिए 50 प्रतिशत या 5 लाख तक अनुदान दिया जाएगा.

प्रो. रणबीर नंदन ने कहा कि इस कार्यक्रम के जरिए प्रदेश के युवाओं को एक सूत्र में जोड़ने की तैयारी की जा रही है. हम युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने की तैयारी कर रहे हैं. इस योजना को आम छात्र व युवाओं के बीच ले जाएंगे. मुख्यमंत्री ने चुनाव के समय सात निश्चय के दूसरे चरण की घोषणा की थी. अब इसे कैबिनेट से भी मंजूरी मिल गई है. इसमें भी युवाओं को रोजी-रोजगार से किस प्रकार जोड़ा जाए, इस पर जोर दिया गया है. राज्य सरकार ने युवाओं का कौशल निखार कर रोजगार से जोड़ने की तैयारी की है. सात निश्चय पार्ट दो में इस मामले को प्रमुखता से शामिल किया गया है. सरकार की योजनाओं के केंद्र में युवा हैं. कौशल विकास से लेकर गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण और उसके आधार पर उद्यम लगाने की योजना तैयार की गई है.



प्रो. नंदन ने कहा कि जिले से लेकर अनुमंडल तक आईटीआई व पॉलिटेक्निक संस्थानों में युवाओं व किसानों को प्रशिक्षित बनाने की योजना है. उन्होंने कहा कि सभी जिला मुख्यालय एवं सभी विश्वविद्यलय मुख्यालय में कार्यक्रम मनाया जाएगा. सरकार द्वारा युवाओं को कौशल निखार से जोड़ने के कार्यक्रम को छात्र जदयू सभी छात्रों व युवाओं के बीच ले जाएगा. स्वामी विवेकानंद ने युवाओं को आत्मनिर्भर बनने का संदेश दिया था. कार्यक्रम में कोरोना गाइडलाइन के तहत सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क के प्रयोग को अनिवार्य किया जाएगा. छात्र जदयू निश्चित तौर पर युवाओं के संपूर्ण विकास को लेकर लगातार कार्य कर रहा है. इसे नए साल में भी जारी रखा जाएगा. सरकार ने भी जिस प्रकार के कार्यक्रम बनाए हैं, वह युवाओं को प्रेरित करेंगे.

छात्र जदयू के प्रदेश अध्यक्ष श्याम पटेल ने कहा कि स्वामी विवेकानंद हमेशा युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत रहे हैं. स्वामी जी युवाओं को शेर कहते थे. उन्होंने युवाओं को अमर आत्मा, स्वच्छंद जीव, धन्य व सनातन करार दिया था. उनके आदर्शों को आज युवाओं को अपने जीवन में उतारने की जरूरत है. इसलिए, छात्र जदयू युवा रोजगार दिवस के मौके पर स्वामी विवेकानंद के विचारों के साथ चलने वाले माननीय मुख्यमंत्री के संदेश को छात्रों के बीच पहुंचाने का कार्य करेगा. युवाओं को अब अपने बेहतर भविष्य की तैयारी करनी है. बरगलाने वाले और भरमाने वाले लोग तो बहुत मिलेंगे, लेकिन सही राह स्वामी विवेकानंद के विचार से ही आएंगे. इसलिए, हम युवा संकल्प लेंगे कि हम ऐसे किसी भी तत्व के बहकावे में आए बिना एक बेहतर कल के लिए आज से ही प्रयास शुरू करेंगे.