पदभार संभालते ही एक्शन में आए प्रत्यय अमृत, एनएमसीएच में डॉक्टरों के साथ की मीटिंग, कोरोना वार्ड का किया निरीक्षण

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क :-स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव की कमान संभालते ही प्रत्यय अमृत एक्शन में आ गए. आज ही उन्होंने स्वास्थ्य सचिव का पदभार ग्रहण किया है. पदभार ग्रहण करने के बाद ही प्रत्यय अमृत काम में जुट गए. ऑफिस में कुछ औपचारिकता पूरा कर सीधे पटना के एनएमसीएच पहुंच गए.

प्रत्यय अमृत सीधे पटना के एनएमसीएच पहुंचे. जहां पर डॉक्टरों से मुलाकात कर कोरोना इलाज से जुड़ी तैयारियों की जानकारी ली. डॉक्टरों को प्रत्यय अमृत ने साफ निर्देश दिया कि इलाज में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. संसाधन का पूरा उपयोग होना चाहिए. आपलोगों के साथ पूरी सरकार खड़ी हैं. मीटिंग बाद पीपीई किट पहनकर अस्पताल के कोरोना का प्रत्येक वार्ड का निरीक्षण किया. मरीजों से मिले उनके अस्पताल की स्वास्थ्य व्यवस्था की जानकारी ली. इस दौरान अस्पताल अधीक्षक समेत कई डॉक्टर मौजूद रहे.



उदय सिंह कुमावत की जगह प्रत्यय अमृत को स्वास्थ्य विभाग का प्रधान सचिव बनाया गया है. उदय सिंह कुमावत के काम से ना तो आईएमए खुश था और नहीं ही विभाग के मंत्री मंगल पांडेय. दोनों ने ही सीएम से कुमावत की शिकायत की थी. जिसके बाद सीएम ने कुमावत को साइड कर विभाग की  जिम्मेवारी अपने भरोसेमंद आईएएस प्रत्यय अमृत को सौंपी है.

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव बनाने की घोषणा के दिन ही प्रत्यय अमृत ने कहा था कि मैं नहीं मेरा काम बोलेगा. क्योंकि मैं बोलने में नहीं काम करने में विश्वास रखता हूं. बता दें कि प्रत्यय अमृत अपने काम के लिए जाने जाते हैं. ये वहीं अधिकारी हैं जिन्होंने बिहार राज्य पुल निर्माण निगम जैसे घाटे वाली संस्था का कायाकल्प करने का काम किया. आपदा प्रबंधन विभाग की भी जिम्मेवारी इनके पास हैं.