बिहार क्रिकेट पर ‘सुप्रीम’ आदेश – रणजी खेलने दे BCCI, विवाद बाद में सुलझाएंगे

supreme-court
फाइल फोटो

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने बिहार में क्रिकेट के भविष्य को लेकर बड़ा आदेश दिया है. कोर्ट ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को आदेश दिया है कि बिहार को भी रणजी और अन्य क्रिकेट टूर्नामेंट खेलने दिया जाये. कोर्ट ने कह है कि ये अंतरिम आदेश क्रिकेट की भलाई के लिए किया गया है. मामले में चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा कि बिहार सत्तर के दशक से क्रिकेट खेल रहा है. झारखंड और बिहार क्रिकेट को लेकर जो विवाद चल रहा है, उसे बाद में सुलझाया जाएगा. पहले बिहार के खिलाड़ियों और टीम को खेलने दिया जाए.

इस दौरान CJI ने साफ़ किया है कि यह अंतरिम आदेश दाखिल याचिकाओं पर नहीं बल्कि क्रिकेट और खिलाड़ियों के हित के लिए दिया गया है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब बिहार की टीम अगले साल से रणजी टूर्नामेंट का हिस्सा बन पाएगी. साथ ही सुप्रीम कोर्ट के इस निर्देश के बाद राज्य के खिलाड़ियों के लिए फिर से भारतीय टीम के लिए दावेदारी पेश करने का रास्ता खुल गया है.

यह है विवाद

गौरतलब है कि वर्ष 2000 में जब बिहार राज्य का बंटवारा हुआ तो शुरू में सब कुछ ठीक था. राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को तब बिहार क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष बनाया गया था. लालू यादव ने बतौर अध्यक्ष बीसीसीआइ की बैठक में हिस्सा लिया था और बोर्ड के चुनाव में अपना वोट भी डाला था. तब अध्यक्ष पद के लिए जगमोहन डालमिया और एसी मुथैया में मुकाबला था.

कहा जाता है कि लालू ने मुथैया को वोट किया था लेकिन चुनाव डालमिया जीत गये और इसी के बाद बिहार क्रिकेट पर ग्रहण लग गया. माना जाता है कि डालमिया ने मतदान का बदला बिहार क्रिकेट से लिया. अध्यक्ष बनते ही उन्होंने बिहार क्रिकेट संघ को तो मान्यता नहीं दी लेकिन झारखंड क्रिकेट को दे दी. जिसके कारण साल 2003-04 के बाद से बिहार राज्य की टीम घरेलू टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं बन पा रही थी.

BCCI ने बिहार-झारखंड विवाद पर दिया जोर

हालांकि बीसीसीआई के वकीलों ने अपनी ओर से कहा कि बिहार और झारखंड विवाद में हैं. और बिहार को रणजी ट्रॉफी में खेलने की इजाजत देना सही नहीं होगा. लेकिन दीपक मिश्रा ने कहा कि इन  दोनों से जुड़े जितने भी विवाद हैं, उन्हें बाद में हम देखेंगे. पहले बिहार को रणजी ट्रॉफी खेलने दी जाए. बिहार के युवा क्रिकेटरों को हक नहीं मारा जा सकता.

बिहार में है क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर का मंदिर, हाथों में पकड़े हैं वर्ल्‍डकप
अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट टीम में चुना गया बिहार का लाल, पहले भी दिखा चुका है अपना जलवा

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*