दिवंगत रूपेश के परिजनों की चीत्कार सुन भावुक हुए सुशील मोदी,छपरा में परिजनों को बंधाया ढांढस, बेटी ने मांगा इंसाफ

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क: बीजेपी सांसद सुशील कुमार मोदी ने रूपेश सिंह के परिजनों से मुलाकात की. छपरा के जलालपुर गांव जाकर उन्होंने पीड़ित परिजनों को ढांढस बंधाया. लेकिन परिजनों की चीत्कार सुनकर वो अपने आप को रोक ना सके. परिजनों की हालत देखकर सुशील मोदी की भी आंखें नम हो गयी.

जब सुशील मोदी से रूपेश सिंह की बेटी ने लिपटकर न्याय मांगा तो उनके आंखों में भी आंसू आ गए. छोटी सी बच्ची की मांग और बेसूध परिवार को देखकर बीजेपी सांसद को कुछ कहते नहीं बन रहा था. किसी तरह उन्होंने आप को संभाला. परिवार को ढांढस बंधाया, और हर हाल में न्याय दिलाने का आश्वासन दिया.



सुशील मोदी के पहले बीजेपी के ही सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने भी परिजनों से मुलाकात की. उनका भी हाल सुशील मोदी की तरह हो गया था जब रूपेश के पिता फफक-फफक रोते हुए कहने लगे कि अब एसआईटी या एसपी इस मामले की जांच करे, मेरा बेटा तो लौटकर नहीं आएगा. इस सवाल का जवाब जनार्दन सिंह सिग्रीवाल भी नहीं दे पा रहे थे.

सुशील मोदी से लिपटकर रोने लगी दिवंगत रूपेश सिंह की बेटी

बता दें कि इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार की हत्या ने सत्ता पक्ष को भी मर्माहत कर दिया है. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के साथ सुबह में घूमने वाले रूपेश की शाम में हुई हत्या से बीजेपी नेता भी गुस्से में हैं.  वे बिहार पुलिस की कार्यशैली से खासे नाराज हैं. वे यूपी मॉडल पर अपराधियों के एनकाउंटर करने की बात कर रहे हैं. जबकि, जेडीयू नेता बोले, नीतीश मॉडल से ही अपराधियों पर लगाम लगेगी.

बीजेपी सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने पुलिस पर अपना गुस्सा निकाला. उन्होंने कहा कि डीजीपी इस मामले में खुद संज्ञान लें. पुलिस यूपी मॉडल के तर्ज पर अपराधियों का एनकाउंटर करे. तभी क्राइम पर अंकुश लगेगा. दूसरी ओर, बीजेपी विधायक नितिन नवीन भी यूपी मॉडल का समर्थन किया. उन्होंने दो टूक कहा कि यूपी के तर्ज पर बिहार में भी अपराधियों का एनकाउंटर किया जाए, जिससे उसमें पुलिस का खौफ पैदा हो सके. उधर, बीजेपी सांसद अजय निषाद ने कहा कि पुलिस केवल शराब और ओवर लोडिंग में फंसी रह जाती है और अपराधी वारदात कर चले जाते हैं. नीतीश कुमार को पहले की तरह काम करना चाहिए.

बीजेपी नेता भले ही यूपी मॉडल की बात कर रहे हैं, लेकिन जेडीयू नीतीश मॉडल से ही क्राइम कंट्रोल की बात कर रहे हैं. जेडीयू सांसद सुनील कुमार पिंटू ने कहा कि बिहार पुलिस एसी से निकलें. यूपी मॉडल नहीं, बल्कि नीतीश मॉडल से क्राइम कंट्रोल करें. ऐसी घटनाओं को रोकने में नाकाम बिहार पुलिस के अफसर नीतीश कुमार को बदनाम कर रहे हैं. पार्टी प्रवक्ता संजय सिंह ने भी कहा कि नीतीश कुमार का्रइम कंट्रोल करने में सक्षम हैं. बिहार में यूपी मॉडल की जरूरत नहीं है.