मौत की सेल्फी : रेल लाइन पर फोटो खींचने में थे व्यस्त, ट्रेन रौंदते गुजर गई

बगहा (अरविंद कुमार): इन दिनों लोगों पर सेल्फी का भूत चढ़ा हुआ है. पर, यह सेल्फी का शौक हर बार मौत की ओर लोगों को धकेल दे रहा है. सेल्फी के चक्कर में लगातार हो रहे हादसे के बावजूद लोग सतर्क नहीं हो रहे हैं. रेलवे लाइन पर फोटो लेने के चक्कर में ऐसे युवकों की यह आखिरी तस्वीर बन जा रही है. ताजा मामला बगहा का है. जहां सेल्फी ने एक बार फिर दो युवकों की जान ले ली है. 

गोरखपुर नरकटियागँज रेल खण्ड के बाल्मीकिनगर नगर रोड व पनियहवा के बीच छितौनी रेल पुल पर सेल्फी ले रहे दो नेपाली युवको की मौत 55072डाउन सवारी गाडी के चपेट मे आने से हो गयी. रेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नेपाल के नवल परासी जिले के दो युवक शिवेंन्द्र कुमार (22) तथा धनेष कुर्मी (20) अपने बुआ के दाह संस्कार के लिए यूपी के पिपरपाती गांव आये थे. 

दाह संस्कार के बाद वे अपने घर वापस लौट रहे थे. जो इसी क्रम में उन दोनों ने बगहा छितौनी रेल पुल पर चढ कर सेल्फी लेनी शुरू कि इसी दौरान गोरखपुर से नरकटियागँज की तरफ आ रही 55072डाउन सवारी गाडी पुल पर पहुंच गयी. जिसकी चपेट मे आकर दोनों युवको की मौत हो गयी. घटना की सूचना मिलते ही यूपी के खड्डा थाना के थानाध्यक्ष निर्भय कुमार सिंह व जीआरपी पुलिस पनियहवा पहुची एवं शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु ले गई.

मृत युवकों के टूटे मोबायल से सिम निकाल कर देखा गया ,जो दो भारतीय व दो नेपाली सिम मोबायल में लगा था।जिस सिम के सहारे उनके परिजनों को सूचना दिया गया. वही शव को यूपी के पडरौना सदर अस्पताल में र्पोस्टमार्टम हेतु भेजा गया है. थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों युवक कान मे एरफोन लगाये हुये थे तथा सेल्फी लेने की बात बताई जा रही है.

यह भी पढ़ें-  सेल्फी का ऐसा भूत कि रुकवा दी राजधानी