तेजस्वी का तंज- बिहार में तो बिना जीते बना ली सरकार, मेघालय में फिर भी 2 जीते हैं

लाइव सिटीज डेस्क : त्रिपुरा, नागालैंड के बाद अब मेघालय में भी बीजेपी की सरकार बन रही है. जबकि यहां सिर्फ बीजेपी के 2 ही विधायक जीते हैं. लेकिन NDA की सरकार बनने पर जहाँ बीजेपी काफी उत्साहित है तो वहीं विपक्ष लगातार हमला बोल रहा है. एक बार फिर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बड़ा तंज कसा है. उन्होंने बिहार में महागठबंधन टूटने और NDA की सरकार बनने के वाकये को याद कर चुटकी ली.

तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बिहार में तो इन्होंने बिना जीते ही चोर दरवाज़े से सरकार बना ली मेघालय में तो फिर भी इनके मात्र दो विधायक जीते है. दरअसल, तेजस्वी यादव ने बिहार में सत्ता पलट वाली बातों को दोहराया. मालूम हो कि 2015 में नीतीश कुमार राजद के साथ महागठबंधन कर सरकार बनाये थे. लेकिन बीजेपी नेता सुशील मोदी द्वारा राजद नेता तेजस्वी यादव को लेकर एक के बाद एक खुलासा करने लगे. कई गंभीर आरोप लगने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने राजद का साथ छोड़ फिर से बीजेपी से हाथ मिला लिया. इस पर, भाड़े तेजस्वी यादव ने जनादेश चोरी का आरोप भी सीएम नीतीश कुमार पर लगाया. साथ ही जनादेश अपमान यात्रा भी तेजस्वी यादव ने निकाली. वरिष्ठ नेता शरद यादव भी जदयू छोड़ गए.

इधर, त्रिपुरा और नगालैंड में खाता तक नहीं खोल पाने वाली कांग्रेस मेघालय में भी सत्ता से दूर हो गई. भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस की रणनीति को फेल कर दिया. राजग की सहयोगी एनपीपी के अध्यक्ष कॉनराड संगमा ने 34 विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए रविवार शाम राज्यपाल गंगा प्रसाद के सामने सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया.

इसके साथ ही पूर्वोत्तर के तीनों राज्यों-त्रिपुरा, नगालैंड व मेघालय, जहां हाल में चुनाव हुए हैं, राजग की सरकारें बनने का रास्ता साफ हो गया. पूर्वोत्तर के ‘सेवन सिस्टर स्टेट’ में अब मात्र मिजोरम में कांग्रेस सरकार रह जाएगी. रविवार को घटे नाटकीय घटनाक्रम में 21 सीट जीतने वाली कांग्रेस को सत्ता से दूर करते हुए भाजपा ने 5 दलों और एक निर्दलीय विधायक के समर्थन से सरकार बनाने का रास्ता साफ कर लिया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*