तेजप्रताप : गाय-भैंस वाली जगह में कैसे रहूंगा, मंत्री : पहली बार जीते हैं आपको यही मिलेगा

लाइव सिटीज डेस्क : सरकारी बंगले पर विवाद जारी है. बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि मुझे गाय-भैंस बांधने वाली जगह दी गई है, मैं कैसे रहूंगा? तो इस पर भवन निर्माण मंत्री माहेश्वर हजारी ने पलटवार किया है उन्होंने कहा है कि पहली बार जीतकर आए हैं तो यही मिलेगा.

भवन निर्माण मंत्री ने दो टूक कहा दिया है कि अगर  पंद्रह दिनों के भीतर सभी पूर्व मंत्रियों ने पुराना आवास खाली नहीं किया तो अब जबरन उनका आवास खाली कराया जाएगा.

पहले तो लग रहा था कि पूर्व मंत्रियों को दिवाली अपने नए आवंटित आवास में मनानी पड़ेगी, लेकिन राजद के पूर्व मंत्रियों एवं विधायकों से आवास खाली कराने के सरकार के आदेश पर पटना हाई कोर्ट ने तत्काल प्रभाव से रोक लगाते हुए जवाब तलब किया है और अब इस मामले की अगली सुनवाई 6 नवंबर को होगी.

गौरतलब है कि सूबे में सत्ता परिवर्तन होने के बाद महागठबंधन के मंत्रियों चंद्रिका राय, अब्दुल गफूर, अब्दुल बारी सिद्दीकी तथा विधायक शिवचंद्र राम सहित पांच को बिहार भवन निर्माण विभाग से गत 20 सितंबर 2017 को एक नोटिस जारी किया गया, जिसमें इन लोगों को एक माह के भीतर आवास खाली कराने का निर्देश दिया गया था. लेकिन अब कोर्ट के आदेश के बाद सभी पूर्व मंत्रियों और विधायकों को छठ तक का समय मिल गया है.

वहीं, इस बात से सबसे ज्यादा दुखी नीतीश कैबिनेट के नवनिर्वाचित मंत्री हैं, क्योंकि उन्हें दीपावली अपने पुराने फ्लैट्स में ही मनानी पड़ेगी। या यूं कहें घरों में ही मनानी पड़ेगी.