तेजप्रताप यादव को मिला सुशील मोदी का साथ, बोले – बड़े नेताओं की चुप्पी का कुछ और इशारा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः लालू परिवार में बगावत के सुर पकड़े हुए तेजप्रताप यादव को अब बीजेपी का साथ मिल गया है. बीजेपी के सीनियर नेता और डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि लालू परिवार में सत्ता का वारिस बनने के लिए लड़ाई है. तेजप्रताप में लालू की छवि दिखती है. लोग तेजप्रताप यादव को पसंद करते हैं. वहीं सुशील मोदी ने कहा कि मीसा भारती को भी स्टार प्रचारक नहीं बनाया गया. बड़े नेताओं की चुप्पी कुछ और इशारा कर रही है. शिवानंद तिवारी को इस पर बोलना चाहिए.

सुशील मोदी यहीं नहीं रुके. तेजप्रताप को धमकी मिलने पर तेजस्वी के किसी भी तरह का बयान ना देने पर सुशील मोदी ने निशाना साधा. उन्होंने कहा कि तेजप्रताप को नीचा दिखाने की कोशिश की जा रही है परिवार में. 8 महीने से तेजप्रताप घर पर नहीं गए. तलाक देने का आवेदन दिया है. तेजप्रताप को नीचा दिखाने के लिए ससुर को टिकट दे दिया गया. सत्ता के वारिस बनने के लिए लालू परिवार में यह लड़ाई और संघर्ष चल रहा है.

मोदी ने कहा कि यह लड़ाई सिर्फ दोनों भाइयों के बीच नहीं. मिशा भारती को भी स्टार प्रचारक क्यों नहीं बनाया गया. क्या कमी थी मीसा भारती में. हो सकता है तेजप्रताप को पार्टी से निकाला भी दिया जाए. तेजप्रताप में लालू यादव की छवि है और लोग तेजप्रताप को पसंद करते हैं. क्या कारण हो सकता है. तेज प्रताप को रोकने का. इस विवाद के कारण राजद के तमाम बड़े नेता छुप्पी थामे हुए हैं.

क्या है तेजप्रताप का मामला

लालू यादव के बडे़ बेटे तेजप्रताप यादव के तेवर कम होने के नाम नहीं ले रहे हैं. तेजप्रताप यादव इसलिए खफा हैं क्योंकि बड़े बेटे होने के बावजूद न तो घर में और न ही पार्टी में उनकी सुनी जाती हैं. समय-समय पर तेजप्रताप यादव का दर्द जुबां पर आ ही जाता हैं. तेजप्रताप को इस बात का दुख है कि कोई उन्हें गंभीरता से नहीं लेता.

About Md. Saheb Ali 4741 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*