27 मई से जनता दरबार लगाएंगे तेजप्रताप, लोकसभा चुनाव में हार की करेंगे समीक्षा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे व पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव एक बार फिर से 27 मई को आरजेडी दफ्तर में जनता दरबार लगाएंगे. इसमें तेजप्रताप आमलोग के साथ-साथ पार्टी के कार्यकर्ताओं की समस्या भी सुनेंगे. तेजप्रताप यादव पार्टी की हार की समीक्षा भी करेंगे. इस जनता दरबार में कार्यकर्ताओं से जानेंगे कि चुनाव में कहां चूक हुई, जिससे आरजेडी की लोकसभा चुनावों में इतनी बड़ी हार हुई है. लोकसभा चुनाव 2019 में तेजप्रताप और तेजस्वी यादव के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर मतभेद हुआ था.

लोकसभा चुनाव में बिहार में महागठबंधन को बुरा हार का सामना करना पड़ा है. बिहार में महागठबंधन को केवल एक सीट से संतोष करना पड़ा है. बिहार के 40 सीटों में से एनडीए के खाते में 39 सीट गई है. जहां तक राजद का सवाल है तो उसे एक सीट भी नहीं मिल पाया है. बिहार में महागठबंधन में शामिल राजद 20, कांग्रेस 9, रालोसपा 5, हम 3 और वीआईपी 3 सीटों पर चुनाव लड़ रही थी. जिसमें से केवल किशनगंज की सीट कांग्रेस के खाते में गई है.

आपको बता दें कि तेजप्रताप यादव ने शिवहर और जहानाबाद सीट पर अपने उम्मीदवार अंगेश कुमार और चंद्रप्रकाश को टिकट दिलाने के लिए तेजस्वी यादव को कहा था, लेकिन वो नहीं माने. अब नतीजा सबके सामने है और इन दोनों ही सीटोंं पर आरजेडी के प्रत्याशियों की हार हो गई है. तेजप्रताप और तेजस्वी के बीच चल रहे घमासान का खामियाजा पूरे बिहार में महागठबंधन को उठाना पड़ा है. राजद की अगुआई वाले महागठबंधन को लोकसभा चुनावों में 40 में से 39 सीटों पर हार का सामना करना पड़ा है. इस हार के बाद कांग्रेस और रालोसपा जैसे दलों ने भी सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं.

दरअसल, जहानाबाद में राजद और जेडीयू के बीच का चुनावी मुकाबला काफी कठिन माना जा रहा था. चुनाव परिणाम सामने आने के बाद इसकी पुष्टि भी हुई, जब हार-जीत का फासला महज 1,711 मतों का रहा. इस सीट से जेडीयू के चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी ने राजद के सुरेंद्र यादव को हराया. सुरेंद्र यादव को जहां 3,33,833 वोट मिले, वहीं चंद्रवंशी को 3,35,584 वोट प्राप्‍त हुआ. जहानाबाद से ही तेजप्रताप के उम्मीदवार चंद्रप्रकाश को 7,755 वोट मिले. बता दें कि यदि इस सीट से तेजप्रताप अपना उम्‍मीदवार नहीं उतारते तो शायद यह सीट राजद के खाते में जाती.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*