बैठक खत्म, भड़के तेजस्वी ने कहा-मेरे खिलाफ साजिश, मामले के वक्त मैं 14 साल का बच्चा था

tejaswi-1.jpg

लाइव सिटीज डेस्क : सीएम नीतीश कुमार की अगुवाई वाली बिहार कैबिनेट की बैठक अब खत्म हो चुकी है. इस बैठक में डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव और स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव भी पहुंचे थे. लेकिन यह बैठक 25 मिनट भी नहीं चल सकी. बैठक से बहार निकल कर तेजस्वी यादव जम कर बीजेपी पर बरसे. उन्होंने कहा कि पहले बीजेपी राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से डरती थी. अब मुझसे भी डरती है.

तेजस्वी ने कहा कि मेरे ऊपर लगे सभी आरोप झूठे हैं. एक 14 साल का बच्चा क्या घोटाला कर सकता है ? उन्होंने कहा कि उस वक्त मुझे दाढ़ी-मूंछ भी नहीं आई थी. हमने तो निष्ठा और समर्पण की भावना से काम से किया है.  तेजस्वी ने कहा कि भ्रष्टाचार पर मेरी भी जीरो टॉलरेंस की नीति है. भाजपा पर गरम होते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि पिछड़े परिवार से आने के कारण ही मुझे सजा मिल रही है. तेजस्वी ने आगे कहा कि अब वे चुप नहीं बैठेंगे. वे सड़क पर उतर जनता के बीच जाएंगे. उन्होंने कहा कि महागठबंधन अटूट है और चलता रहेगा.tejaswi-1.jpg

बता दें कि बिहार में अभी सियासी संग्राम छिड़ा हुआ है. बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव पर FIR दर्ज होने के बाद विपक्ष ने तेवर कड़े करते हुए उनका इस्तीफा मांगा. जिसके बाद बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर भी तेजस्वी को बर्खास्त करने के लिए दबाव बनाया जाने लगा.  सोमवार को आरजेडी ने अपनी बैठक के बाद यह साफ कर दिया कि तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम बने रहेंगे.

लेकिन मंगलवार को जदयू कार्यकारिणी की बैठक के बाद आरजेडी के पाले में गेंद फेंकते हुए यह कहा गया कि 4 दिनों के अंदर राजद तेजस्वी पर फैसला करें. लेकिन राजद ने दोबारा अपना निर्णय स्पष्ट करते हुए कहा कि तेजस्वी किसी भी सूरत में इस्तीफा नहीं देंगे. इसके बाद  आज नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार कैबिनेट की बैठक बुलाई गई. जिसमें तेजस्वी यादव और तेज प्रताप भी शामिल हुए. तेजस्वी यादव ने बैठक के बाद कहा कि मीडिया भी बीजेपी माइंडेड हो गई है. साथ ही भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी पर भी तेजस्वी ने उन्हें फंसाने के आरोप लगाये.

यह भी पढ़ें-  राजद का जदयू को साफ़ जवाब तेजस्वी किसी कीमत पर नहीं देंगे इस्तीफा
नीतीश के अगल-बगल बैठने वाले हरिश्चंद्र की औलाद हैं क्या!