‘भागवत के बाद अब शाह आ रहे हैं नीतीश और गिरिराज को ट्रेनिंग देने, साइड इफेक्ट दिखेगा बिहार में’

fitness, Narendra Modi, tejashwi yadav, Virat Kohli, विराट कोहली, तेजस्वी यादव, पीएम मोदी, फिटनेस चैलेंज
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः राजद के स्थापना दिवस के बाद से अचानक से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव बिहार की सियासत से ‘गायब’ हो गये थे. पता अब भी नहीं चला है उनके बारे में. लेकिन ट्विटर पर जरूर मौजूदगी दर्ज करा दी है. उन्होंने इस बात का एहसास कराया है कि मैं हूं. तेजस्वी के बारे में चर्चा यह भी है कि घरेलू विवाद इसके पीछे बड़ा कारण है. तेजप्रताप यादव ने भी अपने भाषण में दिल्ली जाने की ओर इशारा किया था.

तेजस्वी ने ट्विटर पर मारी एंट्री

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के विवादित बयान पर उनका बड़ा ट्वीट सामने आया है. उन्होंने ट्विटर पर आज 11 जुलाई को लिखा है कि 18 वर्षों के अज़ीज साथी गिरीराज सिंह और नीतीश कुमार अंदरखाने मिलकर ऊपर से बनावटी विरोध प्रकट करते है. RSS प्रमुख मोहन भागवत के बाद अब दोनों के साथ वर्षों से अर्जित अति विशेष नॉलेज शेयरिंग एवं ट्रेनिंग देने अमित शाह बिहार आ रहे है. कुछ दिनों बाद बिहार में साइड इफ़ेक्ट्स दिखेंगे.

तेजस्वी ने गिरिराज पर साधा निशाना

दरअसल राजद का स्थापना दिवस इसी माह 5 जुलाई को मनाया गया था. उस दिन दोनों भाई मतलब तेजप्रताप और तेजस्वी यादव एक ही गाड़ी से कार्यक्रम में पहुंचे. कार्यक्रम में दोनों का अपने-अपने अंदाज में भाषण हुआ. खास बात यह भी रही कि कार्यक्रम में तेजप्रताप ने छोटे भाई को चांदी का मुकुट पहनाया तो तेजस्वी ने अपने बड़े भाई के पैर छूकर आशीर्वाद लिया.

लेकिन तेजप्रताप ने भाषण के दौरान इशारों ही इशारों में यह भी कहा था कि तेजस्वी दिल्ली जा रहे हैं, सो संगठन तो हम ही चलाएंगे. लेकिन अब यह कयास लगाये जा रहे हैं कि तेजस्वी के राजनीति से अचानक लापता होने के पीछे कहीं घरेलू विवाद तो नहीं?

थोड़ा फ्लैश बैक जाते हैं तो पाते हैं कि पिछले माह 9 जून को तेजप्रताप यादव ने ट्वीट कर सनसनी फैला दी थी. उन्होंने पार्टी व घर में कुछ ठीक नहीं होने के संकेत दिये थे. बाद में डैमेज कंट्रोल किया गया और लालू प्रसाद के जन्म दिन पर एक-दूसरे को केक खिलाया गया. मीसा भारती का भी ईद मिलन समारोह में बयान आया कि दोनों भाइयों में कोई विवाद नहीं है.

मामला सबकुछ ठीक चल रहा था कि अचानक महुआ विधानसभा में कार्यक्रम के दौरान तेजप्रताप यादव लोगों की शिकायत पर मर्माहत हो गये और 2 जुलाई को उनके फेसबुक और ट्विटर एकाउंट से तेजप्रताप के राजनीति से संन्यास लेने की बात कही गयी. सियासत में हंगामा मचा तो तेजप्रताप ने एकाउंट हैक करने की बात कही.

About Md. Saheb Ali 4206 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*