लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और राजद सुप्रीमो के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने राजद का अध्यक्ष बनने की ख़बरों पर विराम लगा दिया है. बता दें कि अज्ञातवास से लौटने के बाद से लगातार तेजस्वी को राजद का अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा जोरों पर थी. राजद के वरिष्ठ नेता और विधायक भाई वीरेंद्र ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि वो पार्टी फोरम पर तेजस्वी को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने की बात रखेंगे. हालांकि अब तेजस्वी इन ख़बरों पर विराम लगा दिया है.

तेजस्वी यादव ने अध्यक्ष बनने की ख़बरों के बीच बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा का चुनाव आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा. इसके बाद तेजस्वी यादव के राजद का राष्ट्रीय बनने की ख़बरों पर विराम लग गया है.

लालू जी जन-जन के नेता हैं

मीडिया से बातचीत करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू जी में सभी विधायकों, बिहार की जनता और खुद मुझे भी विश्वास है. उन्होंने राजद के अध्यक्ष बनाए जाने के सवाल पर कहा कि पार्टी लालू जी के नेतृत्व में ही विधानसभा चुनाव लड़ेगी. उन्होंने कहा कि  पार्टी के भीतर और बाहर कोई क्या कहता है, उससे कोई मतलब नहीं. लालू जी जन-जन के नेता हैं और उनमें सबका विश्वास है. इसमें किसी को कोई संदेह नहीं.

सक्रिय राजनीति में तेजस्वी का कमबैक

इससे पहले तेजस्वी ने सक्रिय राजनीति में कमबैक करते हुए बुधवार को प्रशासन द्वारा पटना जंक्शन स्थित दूध मंडी को तोड़े जाने के खिलाफ धरना दिया था. इसके बाद तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को अपने निर्वाचन क्षेत्र राघोपुर का दौरा किया. यहां उन्होंने राजद के सदस्यता अभियान की शुरुआत की और कहा कि पूरे बिहार में आरजेडी का सदस्यता अभियान पहले से चल रहा है और 50 लाख लोगों पार्टी को सदस्य बनाने का टारगेट है. उन्होंने यह भी बताया कि पर्चा से सदस्य बनाने के साथ ही पार्टी ऑनलाइन सदस्यता अभियान भी चला रही है.

अरुण जेटली के निधन से देशभर में शोक, ट्वीट कर दिग्गज नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

नहीं रहे PM मोदी के ‘संकटमोचक’ अरुण जेटली, दिल्ली के एम्स में हुआ निधन