“अपना काम बनता भाड़ में जाए जनता” आम बजट पर तेजस्वी ने ऐसे दी प्रतिक्रिया

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : आम बजट को लेकर विपक्ष के नेताओं ने अलग-अलग प्रतिक्रिया दी है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी ने ट्वीट कर लिखा कि ‘’यह देश बेचने वाला बजट है.यह बजट नहीं सरकारी प्रतिष्ठानों व संपत्तियों को बेचने की सेल थी. रेल,रेलवे स्टेशन,एयरपोर्ट,लाल किला, BSNL,LIC बेचने के बाद यह बजट नहीं बल्कि अब बैंक,बंदरगाह,बिजली लाइनें,राष्ट्रीय सड़के, स्टेडियम,तेल की पाइप लाइन से लेकर वेयरहाउस बेचने का भाजपाई निश्चय है”

बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए तेजस्वी ने कहा की जहां-जहां पर चुनाव है वहां का नाम चीख चीखकर नाम लिया गया. चुनाव वाले जगहों के लिए सिर्फ घोषनाएं की गयी है. वहां काम नहीं किया गया है. उन्होंने कहा कि अपना काम बनता भांड में जाए जनता, इसी सिद्धांत पर बीजेपी सरकार चला रही है.



उधर दिल्ली के मुख्यमंत्री व आप पार्टी अध्यक्ष अरविन्द केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि “यह बजट चंद बड़ी कम्पनियों को फ़ायदा पहुंचाने वाला बजट है. ये बजट महंगाई के साथ आम जन-मानस की समस्याएं बढ़ाने का काम करेगा”

उधर सीपीआई नेता कन्हैया कुमार ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि “बज़ट ऐसा पेश किया है कि मानो देश में बिकवाली का ‘बम्पर मेगा सेल ऑफ़र’ चल रहा हो.  पता नहीं सरकार चला रहें हैं कि हरेक माल की दुक़ान.

बता दें कि मोदी सरकार ने आज संसद में आम बजट पेश किया. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपना लगतार तीसरा बजट किया और आत्मनिर्भर भारत पर जोर दिया. मोदी सरकार के इस बजट में करदाताओं को कोई राहत नहीं मिली, मगर सरकार ने 75 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों को रियायत दी है. सरकार ने ऐलान किया कि अब 75 साल से अधिक उम्र के लोगों को इनकम टैक्स भरने की जरूरत नहीं होगी.

हालांकि, सरकार ने इस बार टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया. इसके अलावा, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कोविड-19 महामारी का मुकाबला करने के लिए सरकार के 27.1 लाख करोड़ रुपये के आत्मनिर्भर भारत पैकेज से संरचनात्मक सुधारों को बढ़ावा मिला है. सीतारमण ने आम बजट में 64,180 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ आत्मनिर्भर स्वास्थ्य कार्यक्रम शुरू करने का प्रस्ताव रखा. उन्होंने कहा कि यह राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अतिरिक्त होगा. वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि भारत में कोविड-19 के दो टीके हैं तथा दो अन्य टीकों की पेशकश जल्द की जाएगी.