तेजस्वी बताएं कि बिहार को जंगलराज में झोंकने वाला कौन था, बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने महागठबंधन पर साधा निशाना

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क :  केंद्रीय कानून मंत्री व बीजेपी के कद्दावर नेता रविशंकर प्रसाद ने महागठबंधन पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव बताएं कि बिहार को जंगलराज में झोंकने वाला कौन था? उनके माता-पिता के राज में कितने डॉक्टरों का अपहरण हुआ था? कितने डॉक्टरों के यहां रंगदारी के लिए स्लिप जाती थी? उन्होंने कहा कि बिजनेस बंद हुए, ठेके के बदले जमीन लिखाओ और माल बनाओ का नारा चलता था. उस समय खौफ, अपहरण, रंगदारी, फिरौती का मंजर था, लेकिन इसका जवाब वे नहीं दे रहे हैं.

भाजपा के मीडिया सेंटर में केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस को भी निशाने पर लिया. कहा कि कांग्रेस माले के साथ खड़ी है. माले ने बिहार में क्या-क्या किया ये सब जानते हैं. लेकिन कांग्रेस ने अपनी राजनीतिक रसूख बचाने के लिए उनसे भी गठबंधन कर लिया। बिहार के लोग जानते हैं कि काम कौन करेगा. काम वे नहीं करेंगे जो सिर्फ बोलते हैं बल्कि वे करेंगे जो काम करते आए हैं.



कुछ लोग लोक-लुभावने वादे करते हैं पर हम कोरे वादे नहीं करते हैं. अगर संकल्प लेते हैं तो रोडमैप के साथ आते हैं. बिहार के लोग शांति, अमन, संयम और विकास चाहते हैं और ये केवल एनडीए ही दे सकता है क्योंकि हमारे पास नेतृत्व है, केंद्र और बिहार सरकार की जोड़ी है. पीएम नरेंद्र मोदी का साफ कहना है कि बिहार के विकास के बिना देश का विकास नहीं होगा.

केंद्र व राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश के गरीबों के पास 126 करोड़ आधार, 37 करोड़ बैंक खाते, 121 करोड़ मोबाइल फोन को जोड़कर पिछले साढ़े पांच सालों में गरीबों के खाते में 11 लाख करोड़ भेजे गए हैं. इससे एक लाख 70 हजार करोड़ बचे हैं जो बिचौलिए खा जाते थे.