बाढ़ पीड़ितों द्वारा चूहा खाने का मामला, कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने लिया संज्ञान

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में बाढ़ कहर बरपा रहा है. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 25 लोगों के मरने की पुष्टि है. वहीं बिहार के कटिहार में बाढ़ पीड़ितों द्वारा चूहा खाकर दिन गुजारने की खबर को लेकर बिहार की सियासत गरमा गई है. बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने राज्य सरकार पर तंज करते हुए कहा कि सरकार जब बाढ़ पीड़ितों को खाना नहीं देगी तो लोग चूहा खाकर ही रहेंगे.

कृषि मंत्री ने लिया संज्ञान

हालांकि मामले में संज्ञान लेते हुए बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने कटिहार डीएम को फोन किया. उन्होंने निर्देश दिया है कि पीड़ितों को तुरंत राहत उपलब्ध कराया जाए. हालांकि विपक्ष इस मामले को लेकर पूरी तरह से सरकार पर हमलावर है. सीएम नीतीश कुमार के हवाई सर्वेक्षण को लेकर पूर्व सीएम राबड़ी देवी तंज किया. उन्होंने कहा कि उनके हवाई दौरे से कुछ नहीं होने वाला है. लोगों के लिए ना तो खाने के सामान गिराए जा रहे हैं और ना ही लोगों को पीने का पानी, किरासन तेल और पशुओं के लिए चारा मिल रहा है. बाढ़ पीड़ितों द्वारा चूहा खाने की बात पर उन्होंने कहा कि खाने को जब सरकार कुछ नहीं देगी तो लोग चूहे ही खाएंगे.

चूहे खाने को मजबूर हैं बाढ़ पीड़ित

वहीं राजद विधायक भाई वीरेन्द्र ने कहा कि बाढ़ में पीड़ितों के पास खाने के लिए अनाज तक नहीं हैं. आरजेडी ने लगातार मामले को उठाया है. उन्होंने कहा कि बाढ़ पीड़ित चूहे खाकर जीने के लिए मजबूर हैं. सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा था कि बाढ़ पीड़ितों को मदद पहुंचाने में सरकार पूरी तरह फेल हो चुकी है.

राजद कर रही नकारात्मक राजनीति

कांग्रेस विधायक अजित शर्मा ने भी सरकार से तुरंत बाढ़ पीड़ितों को मदद दिए जाने की अपील की है. वहीं बीजेपी विधायक संजय सरावगी ने विपक्ष पर नकारात्मक राजनीति करने का आरोप लगाया है. बीजेपी विधायक ने राजद के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि राजद को पहले ये बताना चाहिए कि उनके नेता प्रतिपक्ष कहां है.

बिहार सरकार पर राबड़ी का तंज, कभी चूहा बांध काट देता है कभी शराब पी जाता है

 

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*