पटना के 20 सेंटरों पर जेईई मेन की पहले दिन की परीक्षा खत्म, बच्चों का चेहरा देख अभिभावकों को लगा सवाल आसान मिला

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : नेशनल टेंस्टिंग एजेंसी द्वारा संचालित जेईई मेन के पहले दिन की दोनों पालियों की परीक्षा संपन्न हो गई. केंद्र से बी-आर्क और बी-प्लान कोर्स की प्रवेश परीक्षा में शामिल छात्र केंद्र से मुस्कारते हुए बाहर निकले. इससे बाहर खड़े अभिभावकों ने राहत की सांस ली. बच्चों के चेहरों को देख उन्हें अहसास हो गया कि सवाल आसान मिला है.

अभ्यर्थियों ने बताया कि सवाल सामान्य स्तर के थे. अभ्यर्थियों की मानें तो सवाल ज्यादा परेशान करने वाले नहीं थे. आसान ही थे. बताया जाता है कि एनसीइआरटी की किताबों से तैयारी करने वाले छात्रों के पेपर बेहतर गए हैं. क्वालिफाइंग मार्क्स प्रथम चरण की परीक्षा से ज्यादा रहने की संभावना है.



वहीं, एंट्री को लेकर भी पहले अभ्यर्थी से लेकर अभिभावक तक डरे हुए थे. पाटलिपुत्र औद्योगिक क्षेत्र स्थित सेंटर पर बच्चों ने बताया कि तीन स्तर पर जांच के बाद केंद्र में एंट्री मिली. व्यवस्था बेहतर थी. सभी को मास्क उपलब्ध कराया गया. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन पूरी तरह से किया गया. इतना ही नहीं, इसके लिए दो छात्रों के बीच के सिस्टम को घेर कर रखा गया था. इस पर दूसरी पाली के छात्र बैठेंगे.

अभ्यर्थी मदन ने बताया कि परीक्षा को लेकर जितना डरे हुए थे. वैसा कुछ दिखा नहीं. गौतम ने बताया कि पहले दिन काफी कम संख्या में छात्र परीक्षा में शामिल हुए. बुधवार से अभ्यर्थियों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है.

बता दें कि परीक्षा छह सितंबर तक दो पालियों में होगी. पहली पाली सुबह 9.30 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक और दूसरी दोपहर 2.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक होगी. कुल 12 पालियों में देशभर से 8.58 लाख विद्यार्थी शामिल होंगे.

बिहार में परीक्षा के लिए पटना के 20, भागलपुर के चार, दरभंगा के पांच, गया के चार, मुजफ्फरपुर के छह, पूर्णिया और आरा के दो-दो सेंटर बनाए गए हैं. कुछ 43 केंद्रों पर 61,583 परीक्षार्थियों के बैठने की व्यवस्था की गई है. पटना में हर दिन दोनों पालियों में 3518 परीक्षार्थियों के लिए वयवस्था की गई है.