लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बैक में रखे पैसे पर मुनाफा कौन नहीं कमाना चाहता. ऐसे में कई लोग बैंकों के अलग—अलग सिक्मों के तहत पैसा जमा कराना पड़ता है.लेकिन ज्याय से ज्यादा बैंक आपको 6 से 9 प्रतिशत के बीच देता है. लेकिन अगर आपको कोई बैंक आपकी जमा राशि पर 21 फीसद दे तो कितना अच्छा होगा. ऐसा पॉसिबल है लेकिन इसके लिए आपको हर दिन कुछ कदम चलने होंगे. अब आप सोच रहे होंगे ये कैसी डील है.

आपको बता दे कि ऐसा आॅफर युक्रेन के एक बैंक ने दिया है. यहां पर एक बैंक ने अपने ग्राहकों को पैदल चलने की शर्त पर उनकी जमा राशि पर 21 फीसद का ब्याज देने की बात कही है. आपको बता दे कि ये मुहिम बैंक की ओर से लोगों में पैदल चलने की हैबिट डालने के लिए शुरू की है. इस मुहिम को युक्रेन के मोनो बैंक ने शुरू किया है. इस पहल को बैंक ने 2015 में ही शुरू किया था. बैंक की इस पहल की ही देन है कि बैंक में खातेधारों की संख्‍या पांच लाख को के पार चली गई है.

बढ़ रही मोटापे और दिल की बीमारी

बैंक के इस मुहिम के पीछे का कारण ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करने का नही बल्की एक सोशल कॉज है.  दरअसल युक्रेन में लोगों के बीच मोटापा और हार्ट की बिमारी तेजी से बढ़ रही है. इसी को लेकर बैंक ने इस आॅफर को शुरू किया है. दरअसल दिल की बीमारी से मरने वालों की दर में यूक्रेन दुनिया में अभी दूसरे नंबर पर है.

यहां के हर एक लाख लोगों में करीब 400 लोगों की मौत दिल की बीमारी से होती है. इसके अलावा ब्रिटेन की तरह यहां भी मोटे लोगों की संख्‍या में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है. मोटापा भी दिल की बिमारी के पीछे की बड़ी बजह होती है. एक की माने तो 2030 तक यहां के 50% पुरुष मोटापे के शिकार होंगे.

इसी को लेकर यहां के मोनो बैंक ने अपने कस्टमर्स को उनकी सेविंग पर 21 प्रतिशत की दर से ब्याज देने की पहल शुरू की और इसके लिए बैंक ने अपने ग्राहकों को हर रोज दस हजार कदम चलने का टार्गेट पूरा करना होगा. इसके अलावा मजेदार बात ये है कि इससे भी अधिक ब्‍याज पाने की खातिर लोग अधिक से अधिक पैदल भी चल सकते हैं, और ऐसा कर भी रहे हैं. यहीं कारण है कि 50 फीसद ग्राहकों को उनकी जमा रकम पर 21 फीसद ब्‍याज भी अदा कर रहा है.