सुशांत के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मिसिंग है यह बात…पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह का बड़ा खुलासा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सबसे महत्वपूर्ण बात मिसिंग है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में वह प्वाइंट नहीं दर्ज है जिससे स्पष्ट हो जाता कि राजपूत को मार के लटकाया गया या फिर वो खुद लटककर मरे. इस बात का खुलासा सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह ने किया है.

विकास सिंह ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की जो पोस्टमार्टम रिपोर्ट मुझे देखने को मिली है उसमें टाइम ऑफ डेथ नहीं है. टाइम ऑफ डेथ बहुत महत्वपूर्ण होता है, जिससे स्पष्ट हो सकता है कि उन्हें मार के लटकाया गया या वो खुद लटककर मरे.



विकास सिंह ने पूरे मामले को संदेहास्पद बताते हुए सीबीआई से जांच कराने की बात कही. उन्होंने कहा कि मुख्य सस्पेक्टेड रिया चक्रवर्ती की आमदनी और उसके द्वारा खरीदी गयी संपत्ति का सही सही जांच की जाए तो पूरा मामला परत दर परत खुल जाएगा.

सुशांत मौत मामले की जांच मुंबई पुलिस करेगी, या सीबीआई करेगी इसका निर्णय तो सुप्रीम कोर्ट करेगा. कोर्ट में सभी पक्षों ने अपनी अपनी दलीलें लिखित रूप से दर्ज करा दिया है. रिया चक्रवर्ती ने बिहार पुलिस की ओर से दर्ज की गयी एफआईआर को मुंबई ट्रांसफर करने की मांग की है. वहीं मुंबई पुलिस ने कोर्ट से इस मामले को सीबीआई के नहीं देने की बात कही है.

सुशांत सिंह सुसाइड मामले पर राजनीति पर चरम पर हैं. शिवसेना के नेता संजय राउत तो मुंबई पुलिस के पक्ष में खुलकर उतर आए है. उन्होंने बिहार पुलिस की कार्यशैली पर ही सवाल उठाते हुए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को निशाना बनाने का काम किया. सुशांत के पिता की दो शादियां होने की बात कह केस के रूख को ही बदलने की कोशिश की. संजय राउत के इस बयान की बिहार में कड़ी निंदा हुई. सुशांत सिंह राजपूत के चचेरे भाई नीरज कुमार बब्लू ने उन्हें कानूनी नोटिस भेजकर माफी मांगने की मांग की है.