टीएमसी केंद्र के धैर्य का इम्तहान लेना बंद करे, बंगाल में जेपी नड्डा पर हुए हमले के बाद बोले बीजेपी के नेता

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के काफिले पर टीएमसी समर्थकों के हमले का प्रदेश बीजेपी के नेताओं ने कठोर निंदा की है. केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, सुशील मोदी, मंगल पांडेय समेत कई नेताओं ने ऐसी घटनाओं को लोकतंत्र को लहूलुहान करने वाला बताया. साथ ही बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागने की मांग की.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि जिस तरह का शर्मनाक हमला बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर हुआ है उससे बंगाल की जनता बहुत गुस्से में है. इस पूरी घटना का संकेत है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को बंगाल में प्रचार नहीं करने दिया जाएगा. आप घुसोगे तो हमला होगा, स्थानीय प्रशासन, पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करेगी. उन्होंने कहा कि ममता जी संघर्ष से निकली नेता हैं, वह यह बात क्यों नहीं समझती हैं कि जहां पर तनाशाही से रोकने की कोशिश की जाएगी वहां पर विरोध और बढ़ता है. 



वहीं पूर्व डिप्टी सीएम व राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर घटना की निंदा की है.उन्होंने लिखा कि पश्चिम बंगाल में भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा और वरिष्ठ नेताओं के काफिले पर ममता बनर्जी की टीएमसी के गुंडों का हमला लोकतंत्र को लहूलुहान करने की ऐसी करतूत है, जिसकी कड़ी निंदा की जानी चाहिए. राजद-कांग्रेस सहित जो 19 पार्टियां नोटबंदी और जीएसटी के खिलाफ कोलकाता रैली में ममता के साथ हाथ मिला कर खडी हुई थीं, उन्होंने  नड्डा जी पर हमले पर चुप्पी क्यों साध ली?. क्या गुरुदेव रवींद्रनाथ और बंकिम चंद की धरती पर लोकतंत्र की रक्षा नहीं होनी चाहिए?

आगे उन्होंने लिखा है कि संसदीय चुनाव से हैदराबाद नगर निगम व राजस्थान के पंचायत चुनाव तक भाजपा की शानदार सफलता से घबरा कर ममता दीदी ने संतुलन खो दिया है.राज्य में भाजपा कार्यकर्ताओं से मारपीट, हमले और हत्या तक की घटनाओं पर राष्टीय दलों के मौन से राज्य में संत्तापोषित राजनीतिक हिंसा को बढावा मिला. राज्य को निर्मम ममता ने जहां पहुँचा दिया है, वहां बिना राष्ट्रपति शासन के निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकते. टीएमसी केंद्र के धैर्य का इम्तहान लेना बंद करे.

उधर राज्य के स्वास्थ मंत्री सह पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय ने टीएमसी के कार्यकर्ताओं द्वारा हमले के प्रयास की कड़े शब्दों में भर्त्सना की है. उन्होंने कहा कि दरअसल विपक्षी दलों की सियासी जमीन खिसक चुकी है, इसलिए बौखलाए हुए हैं. जिस तरीके से टीएमसी के गुंडों ने नड्डा एवम भाजपा नेताओं एवम कार्यकर्ताओं पर हमले की कोशिश की वह लोकतंत्र के लिए काल धब्बा है, निंदनीय है.

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को बताना होगा कि नड्डा जी को पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था क्यों नहीं मुहैया कराई गई. मंत्री पांडेय ने कहा कि असल में आगामी विधान सभा चुनाव में अपनी हार सुनिश्चित देख टीएमसी की नेता ममता बनर्जी अपना मानसिक संतुलन खो चुकी हैं.