लालू ने अन्नपूर्णा को पद से हटाया, गौतम सागर राणा को मिली नई जिम्मेवारी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : झारखंड से राजद के लिए बहुत बड़ी खबर आ रही है. झारखंड से राजद को बहुत बड़ा झटका मिल गया है. झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी आज दिल्ली में भाजपा में शामिल हो सकती है. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव उन्हें पार्टी पद से निकाल दिया है. पार्टी ने नया प्रदेश अध्यक्ष का भी चुनाव कर लिया है. राजद का नया प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा बने.

बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि पार्टी विरोधी गतिविधि के कारण यह बड़ा फैसला लिया गया. तेजस्वी ने कहा कि अगर कोई भी नेता अगर पार्टी के विरोध कुछ भी गलत करता है तोे उनपर ऐसे ही कार्रवाई की जाएगी. पार्टी कुछ भी गलत बयान या पार्टी विरोधी गतिविधि सुनने को तैयार नहीं है.

आरजेडी की प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी आज दोपहर तीन बजे दिल्ली में बीजेपी में शामिल होंगी. इसके लिए वह दिल्ली पहुंच चुकी हैं. सूचना के मुताबिक बीजेपी अन्नपूर्णा को कोडरमा सीट पर प्रत्याशी बना सकती है.

रविवार को शाम से ही कयास लगाये जा रहे थे कि आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष पार्टी छोड़ भाजपा का दामन थाम सकते हैं. बिहार और झारखंड के प्रभारी व भाजपा के राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव रविवार को रांची के दौरे पर थे. राजद प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी कल भूपेंद्र यादव से रांची में मुलाकात की थी.

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने कहा कि अन्नपूर्णा को कोडरमा से चुनाव लड़ाने पर फिलहाल फैसला नहीं लिया गया है. यह केन्द्रीय नेतृत्व तय करेगा. आज अन्नपूर्णा बीजेपी में शामिल हो रही हैं. शाम तक चुनाव लड़ाने पर भी फैसला हो जाएगा. बतौर गिलुवा बाकी बचे तीन सीटों, रांची, चतरा और कोडरमा के लिए आज शाम तक प्रत्याशियों का ऐलान हो जाएगा.

गिलुवा के मुताबिक अन्नपूर्णा के शामिल होने से बीजेपी मजबूत होगी, जबकि झारखंड में आरजेडी को बड़ा झटका लगा है. अन्नपूर्णा के अलावा आरजेडी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गिरिनाथ सिंह के भी बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज हैं. रांची से सीटिंग सांसद रामटहल चौधरी का टिकट कटने के सवाल पर गिलुवा ने कहा कि इस बार 75 के पार वाले नेता को प्रत्याशी नहीं बनाया गया है. इधर टिकट कटने की आशंका के मद्देनजर रामटहल चौधरी ने बागी तेवर अपना लिया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*