TOPPER SCAM : बोर्ड चेयरमैन आनंद किशोर को शिक्षा मंत्री का नोटिस

लाइव सिटीज डेस्क : लाइव सिटीज मीडिया की खबर के असर के बाद इंटर आर्ट्स टॉपर गणेश की गिरफ्तारी से बिहार बोर्ड से लेकर मंत्रालय तक में अफरातफरी मची हुई है. लाइव सिटीज की रिपोर्ट के बाद से बिहार बोर्ड के चेयरमैन आनंद किशोर और बिहार सरकार में शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी के बीच 36 का आंकड़ा हो गया है. शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने बिहार बोर्ड के चेयरमैन आनंद किशोर के खिलाफ नोटिस जारी किया है. 

बता दें कि शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने यह नोटिस इंटरमीडिएट रिजल्ट में हुए गड़बड़ी को लेकर जारी किया है.  गणेश की गिरफ्तारी से पहले बोर्ड के चेयरमैन और शिक्षा मंत्री दोनों फर्जी गणेश के सही होने का दावा कर रहे थे. पर, गणेश की गिरफ्तारी के बाद चौधरी ने भड़ास आनंद किशोर पर ही निकाल दी है. मीडिया से उन्होंने कहा  कि आनंद किशोर भी जांच के घेरे में आ गए हैं . दोषी कोई नहीं बचेगा. बोर्ड ने उनके निर्देश का ठीक से पालन नहीं किया, इस कारण इतनी बड़ी चूक हो गई.

बता दें कि बिहार में 2016 में भी हुई इंटर टॉपर फर्जीवाड़े के बाद तत्कालीन बोर्ड के चेयरमैन लाल्केश्वर प्रसाद को हटाये जाने के बाद नीतीश कुमार के भरोसे के आईएएस अधिकारी आनंद किशोर को बोर्ड का चेयरमैन बनाया गया है. लेकिन एक बार फिर इंटर आर्ट्स टॉपर गणेश की गिरफ्तारी के बाद बोर्ड पर सवाल उठने लगे हैं. इस मामले में बोर्ड के चेयरमैन ने कहा कि गणेश के लिखित परीक्षाओं में कोई कमी नहीं है. बोर्ड ने इसकी जांच की है. गणेश पर उम्र छिपाने को लेकर कार्रवाई की गई है. बता दें कि गणेश की वास्तविक उम्र 42 साल है. और वह 2 बच्चे का पिता है. 1990 में भी मैटिक की परीक्षा दे चुका है.

यह भी पढ़ें-  36 में बदले रिश्तेः IAS आनंद किशोर पर फटा Minister अशोक चौधरी का गुस्सा